बरगी बांध के प्रतिबंधित क्षेत्र में शादी समारोह का मामला- कर्मचारी संघ, अधिकारियों के खिलाफ मैदान में उतरा

Jabalpur- Bargi Dam Marriage Dispute : मध्यप्रदेश के जबलपुर में बरगी बांध के प्रतिबंधित और बेहद संवेदनशील एरिया में हुई शादी को लेकर अब कर्मचारी संघ ने अधिकारियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है, दरअसल मध्य प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ का आरोप है कि शादी की अनुमति अधिकारियों ने दी और मामला सामने आने के बाद अब छोटे कर्मचारियों पर मामला दर्ज किया जा रहा है,  संघ का आरोप है जिस दिन बरगी बांध में कन्या का विवाह हुआ उसी दिन मुख्य अभियंता की कार पार्टी स्थल में मौजूद थी। जिसको लेकर संघ ने संभागायुक्त से मुख्य अभियंता के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

यह था मामला 

दरअसल जबलपुर के रानी अवंती बाई लोधी परियोजना बरगी बांध में पिछले दिनों बड़ी लापरवाही सामने आई थी। यहाँ बिना अनुमति के बरगी बांध में 8 फरवरी को टेंट लगाया गया था। वहीं 9 फरवरी को शादी आयोजित की गई थी जिसमें सैकड़ों लोग पहुंचे थे। इस शादी समारोह को उस जगह आयोजित किया गया था जो पूरी तरह से प्रतिबंधित एरिया था और यहाँ आम आदमी जा भी नहीं सकता है, लेकिन अधिकारियों ने यहाँ विवाह समारोह की अनुमति दे दी और लोगों की जान खतरे में डाल दी थी, खास बात यह थी कि देर रात तक चलती रही इस पार्टी में सैकड़ों लोग शामिल हुए थे। जो बिना किसी रोक-टोक के बांध के गेट तक आते-जाते रहे। जब आयोजन के बाद बरगी बांध में हुए शादी की तस्वीरें वायरल हुई। उसके बाद आनन-फानन में कार्यवाही को लेकर चर्चा का बाजार गर्म हो गया था।

छोटे कर्मचारियों पर गिरी गाज, जबकि बड़े अधिकारियों ने ही दी थी अनुमति 

मामला सामने आने के बाद अब आयोजन को को लेकर उपयंत्री चौकीदार समयपाल पर निलंबन की कार्यवाही की गई लेकिन अब कर्मचारी संघ विभाग के इस फैसले के खिलाफ खड़ा हो गया है, मध्यप्रदेश के तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ द्वारा संभाग आयुक्त कार्यालय में मुलाकात कर मुख्य अभियंता डीएल वर्मा के निलंबन की मांग की हैं। संघ का आरोप है कि  मुख्य अभियंता के द्वारा कर्मचारियों पर कार्रवाई की जा रही है। जबकि कार्रवाई मुख्य अभियंता पर की जानी चाहिए। क्योंकि जिस दिन शादी हुई उस दिन मुख्य अभियंता की खुद ही गाड़ी वहां खड़ी थी। संघ का कहना है अधिकारियों के द्वारा कार्यवाही के नाम पर निचले तबके के कर्मचारियों पर गाज गिराई जा रही है जबकी अधिकारियों ने खुद टेंट हाउस वाले से टेंट लगाने को कहा था, फिलहाल संघ ने चेतावनी दी है कि अगर कर्मचारियों पर कार्रवाई की गई तो वह इसके खिलद मैदान में उतरेगें।


About Author
Avatar

Harpreet Kaur

Other Latest News