मामा और नानी ने बनाया नाबालिग को चोर, शादी वाले घर में की चोरी

जब पुलिस ने गिरफ्तार किया तो नाबालिग ने उगली सच्चाई, लाखों के आभूषण जब्त, साथ में नानी और मामा गिरफ्तार

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर मे राँझी इलाके में हुई चोरी के मामले में पुलिस के हत्थे चढ़े चोरों ने जब असलियत बयान की तो पुलिस भी हैरान रह गई, चोरी करने के लिए इन नाबालिगों को किसी और ने नहीं बल्कि उनके मामा और नानी ने ही उकसाया था, दरअसल जबलपुर स्थित बड़ा पत्थर रांझी क्षेत्र में नानी-मामा के कहने पर नाबालिग ने  साथी के साथ मिलकर सुनील हरदहा के घर में उस वक्त चोरी की, जब सुनील की बारात घर से निकली थी, इस मामले में जांच करते हुए पुलिस ने नानी, मामा व नाबालिग को हिरासत में लेकर करीब 4 लाख रुपए के जेवर बरामद करते हुए मुख्य आरोपी की तलाश शुरु कर दी है, जिसे पकड़ने के लिए पुलिस की टीमें संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से सोने का 1 हार, 3 अंगूठी, 1 बेंदी, 4 मंगलसूत्र,  3 नथ, 1 जोडी झुमकी, 2 कंगन, 1 सिक्का, 2 हाय, 3 लाक वाली चूडी तथा चांदी की 1 करधन, 1 जोडी पायल, 5 जोडी पट्टी, 2 सिक्के, 1 चेन बरामद किए है पुलिस का कहना है कि मुख्य आरोपी हर्ष कोरी के पकड़े जाने पर और भी सामान बरामद होने की संभावना है।

यह भी पढ़े.. ओबीसी आरक्षण को लेकर वीडी के निशाने पर दिग्विजय और कमलनाथ 

रांझी पुलिस के अनुसार बड़ा पत्थर रांझी निवासी सुनील हरदहा उम्र 34 वर्ष कनक इंटरप्राइजेज में एवरेस्ट मसाला का डिस्ट्रीब्यूटर है, सुनील की 13 दिसम्बर को घर से बारात निकली, देर रात हर्ष उर्फ हर्षू कोरी निवासी बड़ी खेरमाई मंदिर अपने नाबालिग साथी के साथ छत के रास्ते से सुनील के घर पहुंचा और खिड़की ग्रिल तोड़ते हुए अंदर आ गया, जहां पर रखी आलमारी से हर्ष ने अपने नाबालिग साथी की मदद से करीब चार लाख रुपए के सोने, चादी के जेवर व  50 हजार रुपए नगद चोरी कर लिए, घटना वाली रात को ही सुनील के दोस्त कुछ सामान लेने के लिए घर आए तो देखा कि सारा सामान बिखरा पड़ा है, प्रथम तल की खिड़की टूटी है, खबर मिलते ही सुनील ने अपने जीजा व दीदी को भेजा उन्होने घर पहुंचकर देखा तो स्तब्ध रह गए, आलमारी के लॉकर में रखे सोने, चांदी के जेवर व नगदी गायब है, शादी वाले घर में चोरी होने की घटना से सनसनी फैल गई, खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और मामले की जांच करते हुए सीसीटीवी के फुटेज निकालकर चोरों की तलाश शुरु कर दी है, पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से सोने का 1 हार, 3 अंगूठी, 1 बेंदी, 4 मंगलसूत्र,  3 नथ, 1 जोडी झुमकी, 2 कंगन, 1 सिक्का, 2 हाय, 3 लाक वाली चूडी तथा चांदी की 1 करधन, 1 जोडी पायल, 5 जोडी पट्टी, 2 सिक्के, 1 चेन बरामद किए है पुलिस का कहना है कि मुख्य आरोपी हर्ष कोरी के पकड़े जाने पर और भी सामान बरामद होने की संभावना है।

यह भी पढ़े.. ट्रोल आर्मी के निशाने पर सीनियर एडवोकेट,जारी किया बयान

तलाश के दौरान क्षेत्र के ही नाबालिग की गतिविधियां संदिग्ध नजर आई, जिस पर पुलिस ने नाबालिग को थाना बुलाकर पूछताछ की तो उसने बताया कि हर्ष उर्फ हर्षू की नानी उषा पति श्यामलाल कोरी उम्र 55 वर्ष व मामा सुरेश पिताश्यामलाल कोरी उम्र 26 वर्ष निवासी नई बस्ती खेरमाई मंदिर के पास रांझी ने सुनील हरदहा के घर में चोरी करने के लिए कहा था, यहां तक कि चोरी करने का तरीका भी बताया था, जिसके चलते दोनों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया है, पुलिस ने मामले में उषा कोरी व उनके बेटे सुरेश कोरी को भी हिरासत में लेकर चोरी किए गए सारे जेवर बरामद कर लिए है, वहीं फरार आरोपी हर्ष उर्फ हर्षू कोरी की सरगर्मी से तलाश की जा रही है, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि हर्षू कोरी के पकड़े जाने पर क्षेत्र में हुई अन्य चोरी की वारदातों का खुलासा होने की संभावना है, पुलिस का कहना है कि चोरी का माल चारों ने बराबर आपस में बांट लिया था।