दिन दहाड़े ट्रैफिक थाने से आटो चुरा ले गए चोर, नाकामी छुपाने सीसीटीवी नहीं किया जारी

जबलपुर। जबलपुर में इन दिनों चोरो के हौसले इतने बुलंद है कि अब वो पुलिस थानों को ही अपना निशाना बना रहे है। ताजा मामला जबलपुर ट्रैफिक पुलिस थाने का है जहाँ दिन दहाड़े तीन युवक दोपहर को एक्टिवा से ट्रैफिक थाने पहुँच कर पुलिस की नाक के नीचे एक आॅटो को बाकायदा स्टार्ट कर वहाँ से चलते बनते है।मामले का खुलासा तब होता है जब ऑटो को चोरी करने एक्टिवा में सवार एक युवक गिर जाता है  जिसे मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी दबोच लेते है। ट्रैफिक थाने में दिन दहाड़े हुई चोरी से पुलिस अधिकारियों के भी होश उड़ जाते है।थाने से ऑटो चोरी होने के चलते पूरे शहर में नाकाबंदी कर दी जाती है।आखिरकार आटो लेकर फरार हुए एक आरोपी को रानीताल के पास ऑटो सहित पकड़ लिया जाता है। पकड़ लिया गया।हालांकि अपनी  नाकामी छुपाने के लिए ट्राफिक पुलिस मौके ए वारदात का सीसीटीवी फुटेज मीडिया को देने तैयार नही है। वारदात के संबंध में जब मीडिया कर्मियों ने बात की तो वह पहले तो गोलमोल जवाब देते रहे और जब उनसे सीसीटीवी फुटेज मांगे गए तो उन्होंने साफ इनकार कर दिया। 

जानकारी के मुताबिक शनिवार को वाहन चैकिंग आटो को पकड़ कर थाने लाया गया था।आटो क्रमांक एमपी 20 आर 3496 को ट्रैफिक थाने में खड़ा करवाया। इसके बाद रविवार दोपहर तीन बजे तीन युवक एक्टिवा क्रमांक एमपी 20 एसआर 3015 से ट्रैफिक थाने पहुंचे। कुछ देर तक वे वहीं खड़े रहे। इसके बाद उनमें से एक युवक आटो में सवार हो गया। जो आटो को चालू करके वहां से ले गया। इसी दौरान एक युवक एक्टिवा में चढ़ने के प्रयास में गिर गया। जिसे मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने दबोच लिया।ट्रैफिक थाने से दिन दहाड़े आटो चोरी करने की बात तेजी से फैली। जिसके बाद हरकत में आए पुलिस अधिकारियों ने इसे नाक का सवाल बनाते हुए पूरे शहर में नाकबांदी करवा दी। जिसके बाद पुलिस ने आटो लेकर फरार हुए आरोपी को दबोच लिया। पकड़े गए दो आरोपियों की पहचान लकी गुप्ता और अशीष पटेल के रूप में की गई है।