ATM क्लोन के मुखिया के साथ TI की नजदीकियों का खुलासा, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

जबलपुर।

एटीएम कार्ड का क्लोनिंग करके लाखो रु कमाने वाले गिरोह के मुखिया ने पुलिस पूछताछ में बड़ा खुलासा किया है।जबलपुर का नया मोहल्ला निवासी मूसा उर्फ माजिद ने पुलिस के सामने खुलासा करते हुए बताया कि उसने ओमती थाने में पदस्थ तत्कालीन थाना प्रभारी जो कि वर्तमान में उपनगरीय क्षेत्र रांझी में पदस्थ है उन्हें गोवा की शहर का पैकेज दिया था।इसमें आरोपी की ओर से टीआई के लिए सपरिवार गोवा तक आने जाने के लिए रेल टिकट बुक कराई गई थी। आरोपी ने पूछताछ में टीआई की मांग पर रोजमर्रा के सामान देने की भी बात स्वीकार की है।

इस संबंध में आरोपी और थाना प्रभारी के बीच हुई चैटिंग भी पुलिस को मिली है।एटीएम क्लोनिंग गिरोह के मुखिया और थाना प्रभारी की नजदीकी सामने आने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। दर्शन करीब साथ माह पहले ओमती थाने में एटीएम कार्ड क्लोनिंग और अन्य मामलों में फरार नया मोहल्ला निवासी मूसा उर्फ माजिद को क्राइम ब्रांच ने उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से उसके चार साथियो के साथ गिरफ्तार किया था और फिर आरोपीयो को ओमती थाना के सुपुर्द क्राइम ब्रांच ने कर दिया था।

तत्कालीन ओमती थाना प्रभारी को जांच में ठगी और जालसाजी में मूसा की भूमिका कही से नहीं मिली थी और उसे यह कह कर छोड़ दिया गया था कि उसका पता एवं अन्य जानकारियां नोट करवा ली गई हैं जरूरत पड़ने पर फिर से उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।इसके बाद से ही तत्कालीन थाना प्रभारी और मूसा संपर्क में रहने लगे। कई बार तो थाना प्रभारी के घर पर मूसा द्वारा रोजमर्रा की समान भी उपलब्ध कराए गए थे। जानकारी के मुताबिक थाना प्रभारी के सपरिवार गोवा शहर के लिए शातिर आरोपी की ओर से चार अलग-अलग रेल टिकट भी बुक कराई गई थी इसमें 21 दिसंबर को एक टिकट थाना प्रभारी एवं एक अन्य यात्री के लिए है। इसी ट्रेन में संबंधित तिथि पर जबलपुर से मडगांव तक के लिए थाना प्रभारी की पत्नी सहित दो अन्य यात्रियों के टिकट बुक कराई गई।वापसी के लिए इसी प्रकार से अलग-अलग टिकट 25 दिसंबर 2019 को जबलपुर के लिए बुक कराई गई थी।पूरा मामला सामने आने के बाद अब पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी जहां कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है वहीं अब माना जा रहा है कि आरोपी मूसा के साथ थाना प्रभारी की नज़दीकियां उनको मुश्किल में डाल सकती है।