किसानों की परेशानी: फसल कटने को तैयार, मजदूरों का टोटा

जबलपुर में बीते 15 दिन से कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए लॉक डाउन है। लोग घरों से निकल नही पा रहे है और जो जाता है तो उस पर पुलिस प्रशासन की नजर रहती है। बात करे अगर रबी सीजन की फसल की तो वह पककर तैयार हो गई है लेकिन लॉक डाउन के चलते फसल काटने के लिए मजदूर नही मिल रहे है और न ही खड़ी फसल निकालने को हार्वेस्टर। हालांकि किसानों की फसलों को देखते हुए कलेक्टर ने हार्वेस्टर की अनुमति दे दी है पर कोरोना वायरस के खोफ से हार्वेस्टर भी आसानी से नही मिल रहे है।

फसल काटने को नही मिल रहे है मजदूर.……
बड़ी मुश्किल से चंद मजदूर फसल काटने को मिले तो जरूर पर वो भी कोरोना वायरस के चलते कभी कभार ही खेतो में आ रहे है।अगर समय रहते गेंहू की फसल नही काटी गई तो किसानों की मेहनत में पानी फिर जाएगा।
पकी फसल को लेकर किसानों ने कही ये बाते….
गेहूं की फसल पक गई है लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा के चलते खेतो में मजदूर नहीं आ रहे हैं ऐसे में गेहूं की फसल सूखती जा रही है वहीं दूसरी और खड़ी फसल को गहने के लिए हर साल आने वाले हार्वेस्टर और थे थ्रेसर भी इस साल लॉक डाउन के कारण अब तक नहीं आए हैं।