केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को लेकर कही ये बड़ी बात

किया सवाल, विधानसभा चुनाव में क्यों जारी किया घोषणा पत्र

bjp-senior-leader-and-central-minister-faggan-singh-kulaste-big-statement-

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनाव के लिए जहां राजनैतिक दलों ने अपने अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए है, वहीं उनके बीच होने वाली बयानबाजी और आरोप प्रत्यारोप भी तेज होने लगा है। जबलपुर पहुंचे केंद्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने उपचुनाव के लिए कांग्रेस द्वारा हर विधानसभा के लिए जारी किए गए वचन पत्र के बहाने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि इसके पहले कभी भी उपचुनावों में ऐसी परिस्थिति नही बनी है कि किसी भी राजनैतिक दल को उपचुनाव के लिए घोषणा पत्र जारी करना पड़ा हो। क्योंकि आमतौर पर आम चुनावों के लिए राजनैतिक पार्टियां घोषणा पत्र जारी करती है, लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है उपचुनाव के लिए घोषणा पत्र जारी किया है।

फग्गन सिंह कुलस्ते का कहना है कि प्रदेश में बीते 15 माह तक प्रदेश कांग्रेस की सरकार थी, और विधान सभा चुनाव के वक्त जो वचन पत्र कांग्रेस लेकर आई थी उसमें किए गए वादों का क्या हुआ ये सभी को पता है। वहीं कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए सिंधिया समर्थकों को टिकिट देने पर फग्गन सिंह कुलस्ते ने कहा कि चुनाव में उम्मीदवार के नाम पर मुहर पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति ने लगाई है। चुनाव समिति ने जारी चीजें देखने के बाद ही टिकिट दी है। इसके अलावा फग्गन सिंह ने कृषि संशोधन विधेयक पर कांग्रेस के विरोध करने पर उसे आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस कृषि संशोधन बिल का विरोध क्यों कर रही है ये बताना मुश्किल है। लेकिन कांग्रेस ने अपने शासन काल में कभी भी किसानो की आय बढ़ाने की कोई कोशिश नही की है, जबकि केंद्र सरकार द्वारा लाया गया कृषि संशोधन विधेयक किसानो के हित के लिए और उन्हें मजबूती देने वाला है।