जबलपुर| संदीप कुमार| रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के छात्र संगठनों ने सामूहिक रूप से यूनिवर्सिटी गेट के सामने जमकर प्रदर्शन किया और प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की. विश्वविद्यालय के छात्र इस बात से नाराज थे कि कोरोना संक्रमण की वजह से कॉलेज और विश्वविद्यालय बंद है इसके बावजूद भी कॉलेजों के द्वारा छात्रों से फीस भरने के लिए बार-बार कहा जा रहा है और घरों में संदेश भेजे जा रहे हैं. फीस जमा न करने पर कॉलेजों से छात्रों के नाम काटे जाने की धमकी दी जा रही है. नाराज छात्रों ने विश्वविद्यालय के गेट के सामने जमीन पर बैठकर धरना दिया और यूनिवर्सिटी प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की. छात्रों का मानना था कि यूनिवर्सिटी प्रबंधन के इशारे पर कॉलेजों के द्वारा छात्रों से फीस वसूलने के लिए कहा जा रहा है जबकि राज्य शासन ने छात्रों से फीस ना लेने संबंधी आदेश जारी किया है|

छात्रों ने विद्यालय प्रबंधन से मांग की कि वे कॉलेजों को इस संबंध में स्पष्ट दिशा निर्देश जारी करें| काफी देर तक नारेबाजी चलने की वजह से विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ कपिल देव मिश्र बाहर आए और उन्होंने छात्रों से ज्ञापन लिया और उन्हें आश्वासन दिया कि कोई भी कॉलेज छात्रों से जबरन फीस वसूली नहीं करेगा. उन्होंने साफ तौर पर कहा कि राज्य शासन के आदेश का पालन किया जा रहा है और छात्रों के हितों का पूरा ध्यान रखा जाएगा. कुलपति के द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद छात्रों ने अपना धरना समाप्त कर दिया|