मंडल चुनाव को लेकर भाजपा में उपजा असंतोष, सामूहिक इस्तीफे की चेतावनी

जबलपुर| मध्य प्रदेश में भाजपा मंडल चुनाव के बाद जहां जिला अध्यक्षों के चुनाव की तैयारी में जुटी है| वहीं मंडल चुनाव में अंदरखाने पनपा असंतोष अब खुलकर सामने आने लगा है| पन्ना जिले की पवई विधानसभा के पदाधिकारी आज हजारो कार्यकर्ताओ का समूहिक लिखित इस्तीफा लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह के जबलपुर स्थित बंगले पहुँचे। कार्यकर्ताओ का आरोप है कि हाल ही में जो पवई विधानसभा में मंडल के चुनाव हुए है उसमें बहुत गड़बड़ी हुई है। 

अपनी शिकायत में भाजपा पदाधिकारीयो ने बताया कि एक तरफा हुए मंडल चुनाव में भाजपा कार्यकर्ताओं की जगह कांग्रेस और शिवसेना के कार्यकर्ता को मंडल की कमान सौपीं गई है। इतना ही नही उम्र के भी दायरे को नजरअंदाज करते हुए 40 साल से ऊपर के व्यक्ति को मंडल अध्यक्ष बनाया गया। पवई विधानसभा से आए कार्यकर्तओं ने चेतावनी दी है कि अगर मंडल अध्यक्ष में बदलाव नही होता है तो मजबूरन हजारो कार्यकर्ता सामूहिक इस्तीफा देंगे। 

इस्तीफे की चेतावनी 

किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि वर्तमान में पवई विधानसभा के विधायक प्रह्लाद सिंह जो कि पहले कांग्रेस और सपा में रह चुके है उनकी बातों को मंडल चुनाव में माना गया। जबकि कार्यकर्ताओ को नजरअंदाज किया गया।इधर मीडिया के सामने दिए इस्तीफे के बयान को लेकर प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह जमकर कार्यकर्ताओ पर बरसे हांलकि बाद में राकेश सिंह ने ये जरूर कहा कि सब की बाते सुनी जा रही है फिर भी अगर किसी को इस्तीफा देना है तो वो दे सकता है।हम आपको बता दे कि समाजवादी पार्टी से भाजपा में आए पवई विधानसभा विधायक प्रह्लाद सिंह से विधानसभा के कार्यकर्ता लगातार नाराज है और आज यही वजह है कि कार्यकर्ताओ का गुस्सा फूट पड़ा है।बहरहाल अब देखना होगा कि राकेश सिंह कार्यकर्ताओ को मनाने में सफल होते है या फिर कार्यकर्ता इस्तीफा देते है।