प्रताड़ित युवक की आत्महत्या के बाद चेती पुलिस, सूदखोरों को किया गिरफ्तार

जबलपुर, संदीप कुमार। रांझी थाना पुलिस ने 20,000 रु के बदले एक लाख रु मांगने वाले सूदखोर सुनील सोनकर को गिरफ्तार कर लिया है, पुलिस ने सुनील के अलावा अभिषेक शुक्ला नाम के युवक को भी गिरफ्तार किया है, हम आपको बता दें कि सूदखोर से परेशान होकर बीते दिन राकेश सिंह नाम के एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी, आत्महत्या करने से पहले मृतक राकेश सिंह ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था जिसमें कि सूदखोर और अन्य लोगों के विषय में रुपए न देने को लेकर जिक्र किया गया था।

यह भी पढ़े.. प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे बड़वानी के छात्र की सड़क दुर्घटना में दर्दनाक मौत

दरअसल रांझी थाना के मानेगांव में रहने राकेश सिंह जो कि चाय की दुकान चलाते थे उन्होंने करीब 1 साल पहले सूदखोर सुनील सोनकर से 20,000 रु लिए थे 1 साल में 20,000 रु बढ़कर एक लाख सूदखोर ने कर दिए, रुपए ना देने पर मृतक राकेश सिंह को आए दिन सुनील सोनकर परेशान भी कर रहा था, इधर राकेश सिंह के परिजनों ने यह भी बताया कि मृतक ने ग्रामीण बैंक से करीब 5 लाख रु का लोन लेकर सचिन सराठे को दुकान खोलने के लिए दिए थे, इसके अलावा अभिषेक शुक्ला को भी राकेश ने करीब सूदखोर सुनील सोनकर से दिलवाए थे, राकेश को न ही सचिन 500000 रु वापिस कर रहा था और ना ही अभिषेक शुक्ला उसे 10 हजार रु वापस कर रहा था, लिहाजा इन सब लोगों से परेशान होकर बुधवार को राकेश सिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, इधर पुलिस ने पूरे मामले में धारा 306 के तहत मामला दर्ज कर आज दो आरोपी सुनील सोनकर और अभिषेक शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया है जबकि सचिन सराठे अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

यह भी पढ़े.. MP के स्कूल मे पढ़ें शहीद को बेटे और बेटी ने ऐसे दी “अंतिम विदाई”

थाना प्रभारी विजय परस्ते की माने तो इसे पहले कभी भी मृतक राकेश सिंह और ना ही उनके परिजनों ने थाने में आकर सूदखोर के खिलाफ शिकायत की थी, अगर समय रहते मृतक राकेश य फिर उनके परिजन पुलिस से सूदखोर के खिलाफ मदद लेते तो शायद आज राकेश जीवित होता।