कई हादसों के बाद जागा प्रशासन, बगदरी घाटी पर बनाए 4 स्पीड ब्रेकर, 10 स्थानों पर संकेतक लगाए

पाटन के पास स्थित बगदरी घाटी में आए दिन हादसे हो रहे थे हाल ही में 4 लोगो की भी बस में दबने से हुई मौत को लेकर स्थनीय लोगो का प्रशासन के खिलाफ जमकर गुस्सा फूटा था,आखिर इस हंगामे के बाद जिला प्रशासन जागा और सड़कों पर स्पीड ब्रेकर लगवाए,

जबलपुर, संदीप कुमार| जबलपुर-दमोह मार्ग (Jabalpur-damoh Road) में लगातार हो रहे हादसों (Accident) के बाद आखिरकार जिला प्रशासन जागा और बगदरी घाटी में स्पीड ब्रेकर सहित संकेतक लगाए गए| इतना ही नहीं घाटी में क्षतिग्रस्त हुई रेलिंग को भी सुधारा गया| इस दौरान एमपीआरडीसी और पुलिस के अधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

दुर्घटनाओं की घाटी बन चुकी थी बगदरी
पाटन के पास स्थित बगदरी घाटी में आए दिन हादसे हो रहे थे हाल ही में 4 लोगो की भी बस में दबने से हुई मौत को लेकर स्थनीय लोगो का प्रशासन के खिलाफ जमकर गुस्सा फूटा था,आखिर इस हंगामे के बाद जिला प्रशासन जागा और सड़कों पर स्पीड ब्रेकर लगवाए, इतना ही नही रोड पर संकेतक के साथ साथ रेलिंग को भी ठीक करवाया गया।

ये हुआ था हादसा
24 दिसम्बर0 को प्रातः लगभग 11 बजे बगदरी घाटी में बस पलटने की घटना हुई थी जिसमे की न सिर्फ 4 लोगो की मौत हुई थी बल्कि दर्जनों लोग घायल हुए थे, आज अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल एवं अतिरिक्त पुंलिस अधीक्षक यातायात संजय कुमार अग्रवाल घाटी पहुँचे और निरीक्षण किया गया, जिसमें मुख्य रूप से रोड इंजीनियरिंग की कमी सामने आयी हैं, क्योंकि बगदरी घाटी पर छोटा घुमाव एवं ढाल है, जिस कारण तेंदूखेड़ा की ओर से आते समय छोटा घुमाव एवं ढाल होने के कारण अक्सर वाहन पलट जाते है। बगदरी घाटी में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने हेतु मध्य प्रदेश रोड डेव्हलेपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड (एम.पी. आर.डी.सी.) के अधिकारियों से चर्चा कर तत्काल स्थान चिन्हित कर ब्रेकर बनवाते हुये स्पीड ब्रेकर रोड मार्किग तथा संकेतक लगवाए गए।