जब जबलपुर कलेक्टर ने मांगे अधिकारियों से पैसे, हुए सब हैरान

सायबर ठग ने व्हाट्सएप के जरिए कलेक्टर इलैया राजा टी के नाम पर ठगने का प्रयास किया, ठग ने कई अधिकारियों को कॉल किया और पैसे मांगे,लेकिन एक अधिकारी को इस कॉल पर शक हो गया,अब पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया है,

जबलपुर, संदीप कुमार। साइबर ठगों ने अब शासकीय अधिकारियों को अपना निशाना बनांना शुरू कर दिया है, साइबर ठग ने जबलपुर कलेक्टर का नाम पर महिला बाल विकास अधिकारी को ठगने का प्रयास किया था पर समय रहते महिला बाल विकास अधिकारी सतर्क हो गए और ठगी से बच गए, महिला बाल विकास अधिकारी की शिकायत पर अब ओमती थाना पुलिस अज्ञात ठग की तलाश में जुट गई है, ठग ने व्हाट्सएप के जरिए कलेक्टर इलैया राजा टी के नाम पर ठगने का प्रयास किया था।

यह भी पढ़ें… गर्मी के दिनों में वजन घटाने का बहुत ही आसान तरीका है सत्तू

ओमती थाना प्रभारी के मुताबिक बुधवार को एक व्यक्ति जिसका मोबाइल नंबर 9382435308 उससे कलेक्टर इलैयाराजा टी के नाम से जिला कार्यक्रम अधिकारी मेहरा को मैसेज भेजा था,व्हाट्सएप डीपी में कलेक्टर की फोटो लगी हुई थी, मैसेज करने वाले ने खुद को कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी बताते हुए अपने व्हाट्सएप नंबर को अन्य ग्रुपों में जोडऩे के लिए कहा,जिला कार्यक्रम अधिकारी ने कुछ ग्रुपों में व्हाट्सएप नंबर को जोड़ कर दिया जिसके बाद कलेक्टर के नाम पर बातचीत करने वाले ठग ने जिला कार्यक्रम अधिकारी मेहरा से पैसे मांगे, कलेक्टर बने ठगने मैसेज में कहा कि उसे पैसों की आवश्यकता है, कुछ दोस्तों को पैसे भेजना है।

संदेह होने पर जिला कार्यक्रम अधिकारी ने कलेक्टर इलैयाराजा की से संपर्क किया जिसके बाद सायबर ठगी के प्रयास का पता चल पाया,कलेक्टर ने एसपी को सायबर ठगी के प्रयास की जानकारी दी,पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर अज्ञात सायबर ठग के खिलाफ धारा 419, 66,66 साइबर क्राइम के तहत एफआइआर दर्ज की गई है,पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।