जबलपुर कलेक्टर जब पहुंचे मेडिकल अस्पताल, नदारत मिले चिकित्सक

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर में एक बार फिर कलेक्टर डॉ टी इलैयाराजा के स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के खिलाफ कड़े तेवर नजर आए, एंबुलेंस चालकों और ठेका कर्मचारियों के हमले में महिला मरीज की मौत के बाद कलेक्टर डा. इलैयाराजा टी ने मंगलवार को खुद मोर्चा संभाला और नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कालेज अस्पताल का औचक निरीक्षण करें पहुँच गए। कलेक्टर मेडिकल कालेज अस्पताल की ओपीडी में पहुंचे जहां एक भी चिकित्सक अपनी कुर्सी पर नहीं मिले। जो चिकित्सक ड्यूटी पर मिले वह भी निर्धारित ड्रेस में नहीं थे।

यह भी पढ़ें… देवास: शहर में निकली राधाकृष्ण फाग यात्रा! भाजपा- कॉंग्रेस नेता समेत RSS पदाधिकारी ने उड़ाया गुलाल  

कलेक्टर ने नाराजगी जताते हुए दो टूक कहा कि चिकित्सक और कर्मचारी निर्धारित ड्रेस में नजर आएं। मेडिकल का जायजा लेते हुए कलेक्टर ने गंदगी पर नाराजगी जताई। कलेक्टर ने हैरानी जताई कि संभाग के इस सबसे बड़े अस्पताल में मरीजों की कतारें लगी है लेकिन डाक्टर्स का अता पता नहीं है, उन्होंने एक्शन लेने की बात भी कही। कलेक्टर इलैयाराजा ने साफ साफ शब्दों में कहा कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वही मरीजों से बातचीत में भी उन्होंने यहाँ होने वाली परेशानिया भी कलेक्टर को बताई। गौरतलब है कि सोमवार को अस्पताल के अंदर वार्ड में घुसकर निजी एम्बुलेंस संचालकों ने मारपीट कर एक महिला को मौत के घाट उतार दिया था।