गैस पीड़ितों के नाम पर विदेशों से चंदा लाने वालों की होगी जांच : आरिफ अकील

-who-bring-donations-from-foreign-in-the-name-of-gas-victims-will-be-investigated--Arif-Akeel

 जबलपुर|  भोपाल में हुई गैस त्रासदी के पीड़ितो के नाम पर लोग विदेशों से चंदा ला रहे है, लेकिन उस चंदे के पैसो में से एक पैसे का भी काम गैस पीड़ितो के लिए नहीं किया जा रहा है| अब ऐसे मामलों की जांच सरकार करवाएगी और गैस त्रासदी के पीड़ितो के नाम पर विदेशों से चंदा लेने वालों पर कार्रवाई होगी, ये कहना है मध्य प्रदेश सरकार के गैस राहत और पुनर्वास मंत्री आरिफ अकील का| एक दिवसीय दौरे पर जबलपुर आये गैस राहत और पुनर्वास मंत्री आरिफ अकील अंजुमन ईस्लामिया स्कूल पहुंचे, जहां उन्होंने वक्फ बोर्ड के सदस्यों के साथ एक बैठक की| जिसमे आरिफ अकील ने जिले में वक्फ बोर्ड की संपत्तियों के बे���तर रख रखाव और उससे आय बढाने के निर्देश दिए|

यहां आरिफ अकील ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए भोपाल गैस त्रासदी के पीड़ितो के सही तरीके से नही हो पा रहे पुनर्वास और उनको होने वाली समस्याओं पर कहा कि कमलनाथ सरकार भोपाल गैस पीड़ितों के लिए उचित कदम उठा रही है…इसलिए गैस पीडितो के पुनर्वास के लिए नई जगह की तलाश की गई है..साथ ही उनके लिए बेहतर रोजगार और इलाज को लेकर भी सरकार गंभीर है| आरिफ अकील का कहना था कि वह खुद गैस त्रासदी के पीड़ित है, इसलिए गैस त्रासदी के पीडितो की परेशानियां उनकी समस्या है| इसके साथ ही आरिफ अकील ने गैस त्रासदी के पीड़ितो के बहाने ऐसे लोगों को भी जमकर आड़े हाथों लिया…जो लोग विदेशों से गैस पीडितो के नाम पर चंदा लेते है और उस चंदे की राशि को पीडितो पर खर्च करने की वजाए किसी और काम में खर्च कर देते है, ऐसे लोगो ने गैस पीड़ितो के लिए कोई सहयोग नहीं किया है|

चंदा लाने वालो पर गिरेगी गाज 

आरिफ अकील ने कहा कि ऐसे लोगो के खिलाफ सरकार जांच कर कार्यवाही करेगी, चाहे चंदा लेने वाले लोग कोई भी क्यों न हो…इसके साथ आरिफ अकील ने कमलनाथ सरकार द्वारा महायुष्मान योजना लाने के बारे कहा कि जब ये योजना आयेगी…तब लोगो को खुद ब खुद पता चल जाएगा कि इसकी क्यों जरुरत पड़ी है..वही आरिफ अकील ने एक बार फिर लघु उद्योगों के जरिये बेरोजगारों को रोजगार देने की बात भी दोहराई।