जबलपुर स्थित तिलवारा घाट पुल जिसे सुसाइड पॉइंट के नाम से जाना जाता है वहाँ एक व्यक्ति ने फिर देर रात कूदकर अपनी जान दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से उसकी तलाश कराई लेकिन उसका कहीं कोई सुराग नहीं लगा।

पुलिस के मुताबिक युवक अमित लोधी जो कि पिंडरई गाँव का रहने वाला है वह मोटर सायकिल क्रमांक एमपी 20 एनबी 3062 लेकर घर से बिना बताये कही चला गया है।सूचना पर गुमइंसान कायम कर जांच में लिया गया था।देर रात व्यक्ति के तिलवारा पुल से कूदने की सूचना पर पहुंची पुलिस को मोटर सायकिल क्रमंाक एमपी 20 एनबी 3062 तिलवारा पुल पर खडी मिली। भाई देवकरण लोधी ने मोटर सायकिल एवं चप्पल अपने भाई अमित कुमार लोधी की होना बतायी है। अमित कुमार लोधी की स्थानीय गोताखेारो एवं होमगार्ड की टीम से तलाश करवाई जा रही है।

सुसाइड पॉइंट में बदल चुके जबलपुर के तिलवारा घाट के पुल को 2016 में कलेक्टर महेश चंद्र चौधरी के निर्देश पर गुजरात के साबरमती पुल की तरह विकसित किया गया था। जिसे NVDA अफसरों ने इस प्रोजेक्ट को तैयार किया था।60 लाख रुपए खर्च कर दस फुट ऊंची रेलिंग लगाई थी इसके बावजूद अतिरिक्त खर्च कर तिलवारा घाट को पर्यटन स्थल के रूप में भी विकसित किया गया था। आपको बता दें कि तिलवारा घाट के इस ऊंचे पुल से लोग आए दिन नर्मदा नदी में कूदकर आत्महत्या कर लेते हैं। जिससे ये खूबसूरत इलाका सुसाइड पॉइंट के रूप में बदनाम हो गया है।फिलहाल युवक की तलाश अभी भी जारी है।