झाबुआ , विजय शर्मा। जिले में हेराफेरी करने के मामले में आज पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने हेराफेरी करने वाले 9 आरोपियों में से 7 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला के निर्देशन में गठित टीम द्वारा नेचरल गोल्ड पल्स एंड फ्लोरीमल, थांदला का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में दल द्वारा गेहूं 75.39 क्विंटल व चना 28.74 क्विंटल कम होना पाया गया। साथ ही कृषि उपज मंडी थांदला में फर्म द्वारा दिनांक 16 मई से दिनांक 01 जुलाई 2020 तक मंडी में प्रस्तुत भुगतान पत्रक में से 24 कृषकों का सत्यापन मौके पर करवाये जाने पर 23 कृषकों का ग्रामों में निवासी होना नहीं पाया गया। साथ ही राजस्व रिकॉर्ड में किसी भी प्रकार की भूमि इन के नाम से दर्ज नहीं थी।

हेराफेरी करने वाले 7 प्रबंधक चढ़े पुलिस के हत्थे, 2 की तलाश जारी

उपरोक्तानुसार फर्म नेचरल गोल्ड पल्स एंड फ्लोरीमल, थांदला के प्रबंधक 1- अलीहुसैन अली , मोहम्मदी अब्बास, मुस्तनसिर चिकलिया , हौजेफा , संजय वोरा, रजनीकांत , श्रेणिक गादीया , लोकेश गादीया, मुनीरा बोहरा के द्वारा फर्जी तरीके से विधि विरुद्ध गेहूं एवं चना क्रय करने के संबंध में शिकायत मिली थी, जिसपर कार्रवाई करते हुए आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु की गई थी। पुलिस द्वारा आरोपियों की तलाश की गई जिसके परिणाम स्वरुप सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता पाई गई है, साथ ही आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। वहीं दो फरार चल रहे आरोपी लोकेश और मुनीरा की तलाश सरगर्मी से की जा रही है।