कलेक्टर ने ली अधिकारियों की बैठक,साथ ही किया नगर भ्रमण, दिए दिशा-निर्देश

झाबुआ, विजय शर्मा। कलेक्टर रोहित सिंह ने थांदला में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कक्ष में अधिकारियों की बैठक ली। रोहित सिंह ने अनुभाग थांदला में जमीन के अविवादित नामांतरण और बंटवारा के लम्बित प्रकरणों की सघन समीक्षा की और निर्देश दिये हैं कि लम्बित प्रकरणों का शतप्रतिशत निराकरण करें। इस बैठक में पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत दिनेश वर्मा, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व जे.एस.बघेल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

कलेक्टर रोहित सिंह ने खाद्यान्न पर्ची में आधार सीडिंग के कार्य की प्रगति की समीक्षा की ओर 81 प्रतिशत ही प्रगति पाई जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिये हैं कि आधार सीडिंग का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। इसमें कोताही न बरती जावे। रोहित सिंह ने बैठक के पूर्व नगर का भ्रमण किया। इसके बाद अष्टभंजन मंदिर के दर्शन किये। इस अवसर पर नागरिकों ने नगर में पानी निकाशी की व्यवस्था न होने के कारण क्षेत्र में पानी भर जाने की शिकायत की और पानी निकाशी की व्यवस्था कराने का अनुरोध किया। रोहित सिंह ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देश दिये हैं कि नगर में पानी निकाशी के लिये नाले का निर्माण कराने का प्रस्ताव तैयार किया जावे।

इस अवसर पर मुख्य नगरपालिका अधिकरी बिना अनुमति के मुख्यालय से बाहर रहने पर शौकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। साथ ही अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को यह भी निर्देश दिये हैं कि सभी अधिकारी कर्मचारी मुख्यालय पर रहें। इसके लिये सुनिश्चित करें कि बिना अनुमति के कोई भी कर्मचारी अधिकारी मुख्यालय से बाहर नहीं जाए। इस बात का विशेष ध्यान रखा जावे। कलेक्टर सिंह ने फुटपाथ योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि इस योजना के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को ऋण उपलब्ध कराने के लिये बैंकों को प्रकरण भेजे जाए। इस योजना के तहत हितग्राहियों का 10 हजार रूपये का ऋण उपलब्ध कराने का प्रावधान है।

कलेक्टर ने ली अधिकारियों की बैठक,साथ ही किया नगर भ्रमण, दिए दिशा-निर्देश

उन्होंने कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देश दिये हैं कि कोरोना वायरस की रोकथाम एवं बचाव के लिये सभी आवश्यक व्यवस्थाए सुनिश्चित की जाए। अनुभाग क्षेत्र में आम जनता को जागरूक किया जाए। मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग किया जाए और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जावे। बिना मास्क पाए जाने पर अर्थ दण्ड से दण्डित किया जाए। दुकानदारों द्वारा नियमों का पालन न कराने पर उन्हें भी अर्थ दण्ड से दण्डित किया जाए। जहां से भी कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की सूचना मिलने पर उस मकान व जगह को कन्टेंमेंट एरिया तत्काल बनाने की कार्रवाई करें।

कलेक्टर ने ली अधिकारियों की बैठक,साथ ही किया नगर भ्रमण, दिए दिशा-निर्देश

कलेक्टर ने नगर में आवारा पशुओं के घूमते हुए पाए जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए अनुविभागीय अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि वे मुख्य नगरपालिका अधिकारी को निर्देशित करें की नगर में आवारा पशुओं को पकडने का अभियान चलाए और इन आवारा पशुओं को पकडकर काजी हाउस तथा गौशाला में रखा जाए, जिससे आवागम तथा यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से चल पाएगी। उन्होंने इसके पश्चात अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कार्यालय परिसर का निरीक्षण किया और कार्यालय भवन की रंगाई-पुताई तथा मरम्मत कार्य कराने के निर्देश दिये।