कांतिलाल भूरिया बोले, “अपने कर्मों से चुनाव हारा कांग्रेस का विधानसभा प्रत्याशी”

भूरिया ने कहा कि पूरे चुनाव में उन्होंने दिन रात एक कर दिया वरना कांग्रेस प्रत्याशी महेश पटेल की जमानत जब्त हो जाती।

झाबुआ, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व केंद्रीय मंत्री (former Union minister) ,कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और वर्तमान में विधायक कांतिलाल भूरिया (kantilal bhuria) ने जोबट विधानसभा से कांग्रेस (congress) के प्रत्याशी रहे महेश पटेल पर जमकर भड़ास निकाली है। उन्होंने महेश के चुनाव हारने के कारणों को बताया है। दरअसल महेश ने भूरिया और उनके परिवार पर चुनाव में भीतरघात करने का आरोप लगाया था।

अलीराजपुर जिले की जोबट विधानसभा में हुए 31 अक्टूबर के उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी महेश पटेल को हराकर बीजेपी की सुलोचना रावत ने विजय हासिल की थी। चुनाव हारने के बाद महेश पटेल ने आरोप लगाया था कि अपनों का साथ नहीं मिला इसलिए चुनाव हार गए। उन्होंने नोटा में मिले भारी वोटों को कांग्रेस का बताते हुए कहा था कि स्थानीय लोगों के इशारे पर भी वह वोट कांग्रेस को न मिलकर नोटा में चले गए।

Read More : IPS अफसरों की DPC आज, 11 अफसरों को मिलेगा प्रमोशन

उन्होंने सीधे तौर पर भूरिया के खिलाफ चुनाव में भितरघात करने का आरोप लगाया था। इस पर कांतिलाल भूरिया का बयान सामने आया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि महेश पटेल चुनाव अपने कर्मों से हारे। भूरिया ने कहा कि भूरिया परिवार खानदानी परिवार है और पिछले 40-45 सालों से इस क्षेत्र में कांग्रेस को बचाने में भूरिया परिवार ही आगे रहा है।

भूरिया ने कहा कि आरोप लगाने वाले उस समय कहां थे? उन्होंने कहा कि भितरघात का आरोप पूरी तरह औचित्यहीन और दुर्भावना से भरा हुआ है और अब महेश पटेल सामने नहीं आ रहे हैं। भूरिया ने कहा कि पूरे चुनाव में उन्होंने दिन रात एक कर दिया वरना कांग्रेस प्रत्याशी महेश पटेल की जमानत जप्त हो जाती। महेश चुनाव किसी और वजह से नहीं अपने कर्मों से हारा है। इतिहास का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि पटेल परिवार को राजनीति में ऊपर उठाने वाला भूरिया परिवार ही है। महेश के पिता विस्ता पटेल को लोग किस नजर से देखते थे?

मैंने ही उसे विधायक बनवाया, जिला सहकारी बैंक का अध्यक्ष बनाया। उसके बाद उसके बेटे मुकेश को भी मैंने विधायक बनाया है। अब ऐसे में महेश पटेल का यह आरोप किसी के गले नहीं उतर रहा और लोग पूछ रहे हैं कि क्या उसने ज्यादा पी रखी थी? भूरिया ने कहा है कि वे महेश पटेल से कहेंगे कि जो कुछ बोला है उसके सबूत ला नहीं तो फिर हमारा लट्ठ चलेगा तो समझ में आ जाएगा।