आर्म्स एक्ट के आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 28 सालों से चल रहा था फरार

28 सालों से सिहोर में पहचान बदलकर रह रहा था आरोपी। आरोपी पर था 10 हजार का इनाम घोषित।

झाबुआ, विजय शर्मा। जिले के लंबे समय से फरार चल रहे आरोपियों की धरपकड़ने का झाबुआ पुलिस द्वारा अभियान चलाया जा रहा है। झाबुआ के एसपी आशुतोष गुप्ता के द्वारा चलाए जा रहे अभियान में पुलिस को फिर एक बड़ी सफलता मिली है। 28 साल पहले किए गए अपराध में फरार आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक झाबुआ आशुतोष गुप्ता ने बताया कि स्थाई एवं फरारी वारंटियों के धर-पकड़ अभियान के तारतम्य में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट झाबुआ के अपराधिक प्रकरण क्रमांक 381/1992 धारा 25(बी) आर्म्स एक्ट में आरोपी टेटीया पिता भारतीया गुण्डिया भील निवासी छोटी हीड़ी के विरुद्ध स्थाई वारंट जारी कर फरार घोषित किया गया था।

थाना कालीदेवी पुलिस को मुखबीर द्वारा सूचना मिली थी कि आरोपी टेटीया कई सालों से अपना घर छोड़कर जिला सिहोर में स्थाई रूप से पहचान पत्र बदलकर रह रहा है,जोकि कई सालों से पुलिस से लुकता-छिपता फिर रहा है। साथ ही अभी वो उसके घर छोटी हीडी आया हुआ है। मुखबीर की सूचना पर विश्वास कर थाना कालीदेवी पुलिस ने आर्म्स एक्ट के अपराध में वर्षो से फरार चल रहे आरोपी टेटीया को उसके घर छोटी हीडी से पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा आरोपियों की गिरफ्तार पर 10,000/- रूपये के ईनाम की उद्घोषणा की गई थी। थाना कालीदेवी पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा उद्दघोषित ईनाम से पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।