एसएएफ के जवान ने सरकारी रायफल से खुद को किया शूट, मौके पर ही मौत

झाबुआ| मध्य प्रदेश के झाबुआ में 15वीं बटालियन के आरक्षक ने खुद को गोली मार ली| मृतक घर पर छुटि्टयां मनाकर 26 नवंबर को नौकरी पर लौटा था। गोली की आवाज सुनते ही अन्य साथी बैरक के अंदर कमरे में पहुंचे तो वहां उन्हें उनका साथी मृतक हालत में मिला। आत्महत्या के कारणों का खुलासा फिलहान नहीं हो सका है। जवान द्वारा खुद को गोली मरने की घटना से महकमे में हड़कंप मच गया है| 

जानकारी के मुताबिक 15वीं बटालियन के आरक्षक नितेन्द्र मंडलोई (28) ने खुदको गोली मारकर आत्महत्या कर ली। घटना शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे की है। बताया जा रहा है नितेन्द्र सुबह 4बजे ही नाइट ड्यूटी कर लौटा था और करीब डेढ़-दो घंटे बाद उसने गोली मार ली। मृतक नीतेन्द्र मंडलोई मूलत: शाजापुर जिले के अवंतिपुर बड़ोदिया के गांव पोलाय कलां का रहने वाला था। गोली लगने के बाद मौके पर ही नीतेन्द्र की मौत हो गई। आत्महत्या के कारणों का खुलासा फिलहान नहीं हो सका है।  

घटना की सूचना मिलते ही वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे| पुलिस को मौके से किसी तरह का सुसाइड नोट मिला है। पुलिस मामले की जाच कर रही है। बताया जा रहा है मृतक आरक्षक, अंतर वेलिया चौकी पर पदस्थ था। मौके पर एसपी विनीत जैन, एएसपी विजय डावर सहित अन्य अधिकारी पहुंचे इसके बाद परिजनों को सूचित किया गया।