जीतू पटवारी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- लोग पेट्रोल पंप को मोदी लूट केंद्र कहने लगे हैं

कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दिवाली पर पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों में कटौती की बात पर तंज कसा है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। केंद्र की मोदी सरकार (central government) ने दीपावली के पहले देश की जनता को राहत देते हुए पेट्रोल और डीजल के दामों (petrol-diesel price) को कम कर दीपावली का तोहफा दिया था। वहीं कांग्रेस अब भी ये मानती है कि देश में पेट्रोल, डीजल और गैस सिलेंडर के दामों में कमी करने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें- विश्वास सारंग का दिग्विजय पर पलटवार- सैनिक वर्दी का मजाक उड़ाना राष्ट्रद्रोह का मामला

दरअसल, पूर्व मंत्री और राउ से कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने इंदौर में मीडिया से बातचीत में कहा कि ये अच्छी बात है सरकार को पेट्रोल डीजल के दामों को लेकर सद्बुद्धि आई है लेकिन आज भी पेट्रोल डीजल के भाव सातवे आसमान पर हैं। यही कारण है कि पेट्रोल पंप को लोग “मोदी लूट केंद्र” कहने लगे हैं। वहीं उन्होंने कहा कि उपचुनाव के दौरान बीजेपी पर जो विपरीत असर पड़ा है उसके चलते डर के कारण दामों में कटौती की गई। जबकि कोविड के बाद सरकार को राहत देनी थी लेकिन सरकार ने लूट की है और सरकार को अभी भी पेट्रोल डीजल और गैस सिलेंडर के दाम और भी कम करने चाहिये।

ये भी पढ़ें- सोनिया गांधी से मिले कमलनाथ, MP उपचुनाव के बाद हुई पहली मुलाकात

वहीं उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बयान को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि हमारे देश का एक संविधान है, उसकी सभ्यता और लोकतंत्र है और उसके अनुसार सभी को जीने का अधिकार है। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि किय कैलाश विजयवर्गीय ने किस मायाने में बयान दिया ये मेरे संज्ञान में नहीं है। लेकिन मुझसे सवाल किया गया है कि बीजेपी से छोड़कर लोग टीएमसी जा रहे हैं। इसे लेकर उन्होंने कुछ कहा है। ऐसे में पूर्व मंत्री कांग्रेस विधायक ने बीजेपी में शामिल होने वालों को लेकर भी सवाल उठाए है और कहा कि दूसरे दल के लोग जब बीजेपी में आते हैं तो किस दम पर आते हैं। कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी के बयान पर अब बीजेपी का क्या रुख रहेगा ये देखना दिलचस्प होगा।