शिवराज पर कमलनाथ का तंज, ‘सौदेबाजी से जनादेश का अपमान ना करते, तो घुटने नहीं टेकने पड़ते’

सीएम शिवराज की जनता के सामने घुटनें टेक कर वोट की अपील पर कमलनाथ ने साधा निशाना

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश की सियासत में इन दिनों उपचुनाव (By- Election) का तडक़ा लगा हुआ है। राजनीतिक दल अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं। वहीं उपचुनाव में भाजपा (Bjp) की साख दांव पर लगी हुई है। दल बदल कर आए भाजपा के प्रत्याशी जनता को रिझाने के लिए उनके पैर तक पकड़ रहे हैं। वहीं सीएम शिवराज (Cm Shivraj) भी जीत की खातिर जनता जनार्दन के सामने घुटनों पर आ गए है। सीएम शिवराज की जनता के सामने घुटनें टेक कर वोट की अपील किए जाने पर मप्र के पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalnath) ने तंज कसा है।

कमलनाथ ने ट्वीट कर सीएम शिवराज के मंच पर घुटनों पर बैठकर हाथ जोडक़र वोट की अपील किए जाने पर तंज कसा है। उन्होंने निशाना साधते हुए कहा है कि जनता को झूठी घोषणाओं, चुनावी वचन और लच्छेदार भाषण परोसकर मूर्ख नहीं समझना चाहिए। अपनी सत्ता लोलुपता के लिये सौदेबाज़ी से जनादेश का अपमान कर राजनीति को कलंकित करने की बजाय जनहित के निर्णय लिए होते तो आज घुटने टेकने की ज़रूरत ही नहीं पड़ती।

गौरतलब है कि शुक्रवार को मंदसौर जिले की सुवासरा विधानसभा में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज ने मंच से कहा कि आज मेरा दिल कर रहा है कि शिवराज यहां बैठकर, शीश झुकाकर मंदसौर और नीमच की जनता को प्रणाम कर और कार्यकर्ताओं का दिल से धन्यवाद दूँ। इसके बाद शिवराज ने मंच पर घुटनों पर बैठकर हाथ जोडक़र प्रणाम किया। इस दौरान जमकर तालियां बजने लगी और नारे लगने लगे। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।