सुप्रीम कोर्ट का फैसला ऐतिहासिक, युगों-युगों तक याद किया जायेगा : संजय पाठक

कटनी| वंदना तिवारी| अयोध्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को बीजेपी के पूर्व मंत्री व विजयराघवगढ़ विधायक संजय सतेन्द्र पाठक ने भारत के इतिहास का अभी तक का सबसे बड़ा फैसला बताया| उन्होंने कहा कि यह एक ऐतिहासिक फैसला हुआ है, इस फैसले को युगों युगों याद रख जाएगा| 

पूर्व मंत्री पाठक ने कहा सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हम सम्मान करते है, मुझे पूरी उम्मीद थी कि सुप्रीम कोर्ट न्याय करेगा और न्याय किया| दोनों पक्षो का ध्यान रखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रामलला के मंदिर की जमीन रामलला ट्रस्ट को सौंप दी, वही मस्जिद के निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन अलग से देने का निर्णय लिया| उन्होंने कहा इस फैसले का स्वागत किया जाना चाहिए| 

उन्होंने यह भी कहा कि आज भारत के निर्माण की आवश्यकता है, न कि मंदिर-मस्जिद के विवाद में पड़ कर किसी के कहने में आकर किसी उन्माद में आके अपने आपको नियंत्रण से बाहर करना चाहिए| सभी को इस फैसले का स्वागत करना चाहिए और भारत के नव निर्माण में सभी को सहभागी बनाना चाहिए।