किशोरियों का सौदा करने यूपी ले जा रहे मानव तस्कर गिरफ्तार, ऐसे हुआ पर्दाफाश

two-held-for-human-trafficking-in-katni

कटनी। वंदना तिवारी। 

मध्य प्रदेश के कटनी जिले में मानव तस्करी का मामला सामने आया है। यहां रविवार को तीन किशोरियोंं को बहला फुसला कर उत्तर प्रदेश ले जाया जा रहा था। लेकिन आरपीएफ पुलिस ने तस्करों के मनसूबों पर पानी फेर दिया। आरपीएफ ने मुड़वारा स्टेशन पर एक महिला और पुरूष को गिरफ्तार कर लिया। आरपीएफ पुलिस को संदेह हुआ और उनसे जब तीन किशोरियों के संबंध में पूछा गया तो वे संतोषजनक जवाब नहीं दे पाईं। बच्चियों का नाम भी बताने में असमर्थ रहे। पुलिस ने तीनों युवतियों के संबंध में सिंगरौली जिले की बरगवां पुलिस को सूचना दे दी है। इस मामले में अब आगे की कार्यवाही बरगवां पुलिस करेगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार उत्तरप्रदेश के ललितपुर जिले के नई बस्ती गांधी नगर निवासी राजू राम पिता श्याम लाल पिछले काफी समय से सिंगरौली जिले के बरगवां थाना क्षेत्र में रहने वाली युवतियों को ललितपुर में बेचने का कारोबार कर रहा था। बताया जाता है कि वह अब तक कई युवतियों को ललितपुर में बेच चुका था।  पुलिस ने बताया कि कुछ दिनों पहले सीमा पति हरगोविन्द बैगा एवं राजू राम पिता श्याम लाल ने सिंगरौली जिले के बरगवां थाना क्षेत्र की तीन युवतियों को अपने झांसे में लिया और उन्हें ललितपुर में बेचने की योजना बनाई। तीनों युवतियों कविता पिता शेखलाल उम्र 12 वर्ष ग्राम जुड़ली, बगदरी थाना बरगवां सिंगरौली, दइया पिता देवशरण बैगा एवं बिट्टी पिता रामनारायण ग्राम कुआं को साथ लेकर राजू राम एवं सीमा सिंगरौली जबलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस में सवार हुए। ट्रेन जब कटनी साउथ स्टेशन पहुंची तो महिला हेल्प लाइन पुलिस की नजर इन पर पड़ी। पुलिस ने इन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की तो राजू और सीमा ने पुलिस को तीनों युवतियों को ललितपुर में बेचने के बारे में बताया। जिसके बाद पुलिस ने राजू और सीमा को गिरफ्तार कर बरगवां पुलिस को पूरे मामले की जानकारी दे दी है।