2 करोड़ के स्वर्ण आभूषण से सजे खजराना गणेश, 51 हजार मोदकों से लगाया गया भोग, दर्शन को पहुंचे दिग्गज

इस मौके पर कलेक्टर मनीष सिंह, प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन सहित गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। विश्व प्रसिद्ध खजराना गणेश मंदिर (Khajrana Ganesh Temple) में गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) के दिन श्रद्धालुओं में खासा उत्साह देखा गया। खजराना गणेश मंदिर पर इस वर्ष भगवान गणेश की महाआरती करने के साथ ही मंदिर प्रबंध समिति ने भगवान के चरणों मे ध्वज रखकर फहराया गया। इस दौरान बप्पा को 4 किलो स्वर्ण आभूषण जिनकी कीमत करीब 2 करोड़ रुपये है उनसे सजाया गया, वहीं भगवान को 51 हजार मोदकों का भोग लगाया गया। इस मौके पर कलेक्टर मनीष सिंह, प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन सहित गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें- एमपी मे अब गुंडों की खैर नही, सरकार ला रही गैंगस्टर एक्ट

इस अवसर पर सपरिवार गणेश मंदिर पहुंचे कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि प्रथम पूज्य भगवान गणेश से उन्होंने प्रार्थना की है समूचे जिले सहित सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड में सुख शांति का माहौल रहे। वहीं उन्होंने बताया कि इस वर्ष भी कोविड को ध्यान में रखते हुए कुछ पाबंदियां लगाई गई हैं जिनका पालन शहरवासियों को करना जरूरी है। वही प्रशासन की कोशिश है कि जल्द वैक्सीन की दूसरी डोज का काम प्रारंभ कर उसे अंजाम तक पहुंचाया जाए। कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि आज से इंदौर में भगवान गणेश का विशेष संग्रहालय भी शुरू किया जा रहा है जिसमे भगवान गणेश की अनेक प्रकार की प्रतिमाएं प्रदर्शन के तौर पर रखी जा रही है।

वहीं प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि आज के दिन उन्होंने बप्पा से प्रदेश में सुख समृद्धि बनी रहने की कामना की है। सांवेर में कांग्रेस के प्रदर्शन को लेकर उन्होंने उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अब कांग्रेस बची ही कहां है। इसके अलावा बड़नगर विधायक को उन्होंने महामूर्ख बताया।

ये भी पढ़ें- पत्नी को मौत के घाट उतारकर पति ने रची झूठी कहानी, शव गाड़कर हुआ फरार, बेटी ने उगला आंखों देखा सच

इधर, प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन ने कहा इंदौर के खजराना गणेश मंदिर से उनका बचपन से ही जुड़ाव रहा है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव के कांग्रेस की जीत होगी और ये भी माना कि आगामी चुनाव का प्रदेश की जनता को इंतजार है। जनता ने 15 महीने की कमलनाथ सरकार को सराहा था और अब जनता चाहती है प्रदेश में फिर से कमलनाथ सरकार काबिज हो।

कुल मिलाकर गणेश चतुर्थी के पहले दिन इंदौर के उत्सवी माहौल का आगाज हो चुका है और आगामी 10 दिनों तक शहर में ये ही माहौल जारी रहेगा।