जन्मदिन पर 3 साल के मासूम की हत्या, बोरी में मिला शव, बलि की आशंका

खंडवा, सुशील विधानी। खंडवा के मूंदी नगर में 3 साल के मासूम की उसके बर्थडे के दिन ही निर्मम हत्या कर दी गई। बुधवार की दोपहर वह अपने घर के आसपास खेल रहा था। इसी दौरान वह अचानक लापता हो गया था। घंटों तलाश के बाद जब वह नहीं मिला तो परिजन ने गुमशुदगी दर्ज कराई। रात को घर से पांच मकान छोड़कर एक सूने मकान में मासूम की उसकी लाश मिली। लाश को बोरी में बांधकर फेंका गया है। गले पर चोट के निशान हैं, हत्या गला दबाकर की गई थी। पुलिस मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश कर रही है।

अपर कलेक्टर के बेटे ने फांसी लगाकर दी जान, सुसाइड नोट में IIT जॉब को लेकर लिखी ये बात

पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए टीम गठित कर इसकी जांच शुरू कर दी है जल्द ही आरोपी गिरफ्तार होगा पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि जहां पर बालक मृत अवस्था में मिला है पूरे एरिया को सील कर दिया गया है कई लोगों से पूछताछ की जा रही है और मामले को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा आरोपी जल्द ही गिरफ्तार होगा।

प्रेम मे असफल प्रेमी जोड़े ने खाया जहर, प्रेमिका की मौत के बाद प्रेमी पर ही मामला दर्ज

बच्चे की लाश मिलने के बाद चर्चा है कि यह हत्या रंजिश के कारण या बलि देने के लिए की गई है। मौके पर पहुंचे एसपी विवेक सिंह से लेकर अन्य अफसर रातभर डेढ़ बजे तक पड़ताल में जुटे रहे। इसके बाद शव को घटना स्थल से अस्पताल ले गए। गुरुवार को पीएम कराया जाएगा। अक्षांश पुत्र श्याम कोठारे को बुधवार को बर्थडे था। वह दोपहर के समय वह घर के पास ही खेल रहा था। इसी दौरान वह लापता हो गया। पिता श्याम और परिजन ने थाने में गुमशुदगी भी दर्ज tu थी। परिजन और मोहल्ले के लोग उसकी तलाश कर रहे थे। वह कहीं नहीं मिला। रात 10 बजे मोहल्ले के कुछ लोग एक सुनसान घर में पहुंचे। वहां बोरा रखा हुआ था। उसे खोला तो उसमें अक्षांश की लाश मिली। ये देख वहां सनसनी फैल गई।जिसने भी बोरे में अक्षांश की लाश देखी उसकी रुह कांप गई।

MP News : 25 अक्टूबर को प्लेसमेंट ड्राइव, मिलेगा नौकरी का अवसर

परिजनो का रो-रोकर बुरा हाल है। अक्षांश के परिवार में माता पिता व पांच साल का एक बड़ा भाई श्रेयांश है। पिता मजदूरी करते हैं। बेटे का शव देख माता-पिता बदहवास हो गए। वे अक्षांश का शव देख-देखकर बिलख रहे थे। एसपी विवेक सिंह ने कहा कि, घटना गंभीर है, हम हत्यारे को जल्द पकड़ लेंगे। हत्यारे की तलाश में मौके पर डॉग स्कवाड भी बुलाया गया। डॉग घटना स्थल जर्जर मकान के आसपास ही घूमता रहा। हालांकि अभी तक कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगे हैं। मासूम का शव मिलने के बाद नगर में चर्चा है कि हत्या संभवत: किसी ने रंजिश या फिर बलि के लिए की है। बुधवार पूर्णिमा होने के कारण बलि दिए जाने की आशंका लोग चर्चा के दौरान जता रहे हैं। देर रात तक पुलिस टीम जांच में जुटी रही लेकिन अफसर किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाए। प्राथमिक जांच में पुलिस ने पाया कि अक्षांश की हत्या हुई है। उसके गले में चोट के निशान हैं। गला दबाकर हत्या की गई है। गले में खून लगा हुआ मिला है। इससे ऐसा लग रहा है कि उसका गला काटने की कोशिश की गई है। शव के पोस्टमार्टम बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि हत्या कैसे की गई।