खंडवा में खोला जाएगा 50 प्रतिशत बाजार, बैठक में कलेक्टर ने लिया फैसला

खण्डवा/सुशील विधानी

खंडवा में अब 50 प्रतिशत बाजार खोले जाएंगे। सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में कलेक्टर अनय द्विवेदी की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में ये निर्णय लिया गया। बैठक में क्षेत्रीय सांसद नंद कुमार सिंह चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से आवश्यक सुझाव दिए। सांसद ने सुझाव दिया कि दुकानदारों को समझाइश दी जाये कि वे अपने ग्राहकों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करायें, जो दुकानदार सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना करते हुए पाए जायें तो उनकी दुकाने सील कर दी जायें। सांसद कहा कि सभी दुकानदारों को सख्त हिदायत दी जाये कि वे अपनी दुकान पर हाथ धोने के लिए पर्याप्त पानी, साबुन व सेनेटाइजर की व्यवस्था रखे तथा जो ग्राहक मास्क लगाकर आएं, उन्हें ही सामान विक्रय किया जायें। बैठक में मौजूद विधायक देवेंद्र वर्मा ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव का एक ही उपाय हैं सोशल डिस्टेंसिंग, अतः बाजार खोलने से पूर्व सभी दुकानदारों व ग्राहकों को सोशल मीडिया के माध्यम से सोशल डिस्टेंसिंग का बाजार में पालन करने के लिए प्रेरित किया जाये। कलेक्टर श्री द्विवेदी ने बैठक में कहा कि शासन से प्राप्त निर्देश अनुसार बाजार खोलने के संबंध में विस्तृत आदेश जारी किए जा रहे है।

इस बैठक में खण्डवा विधायक देवेन्द्र वर्मा, पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह, अपर कलेक्टर नंदा भलावे कुशरे, पूर्व महापौर सुभाष कोठारी, जिला भाजपा अध्यक्ष सेवादास पटेल सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि व व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद थे। कलेक्टर ने बैठक में कहा कि कन्टेन्मेंट क्षेत्र में कोई दुकान नही खोलने दी जायेंगी तथा कन्टेन्मेंट क्षेत्र में आवागमन भी पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। उन्होंने बताया कि नागरिकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए कन्टेन्मेंट क्षेत्र के आकार बहुत सीमित कर दिए गए हैं, ताकि कम से कम परिवार कन्टेन्मेंट क्षेत्र के प्रतिबंधात्मक आदेशों से प्रभावित हो। चेम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष गुरमीत सिंह उबेजा ने बैठक में कहा कि चूंकि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में खण्डवा शहर में एक दिन में सिर्फ 50 प्रतिशत व्यापारिक प्रतिष्ठान ही खोलने की बात कही है, अतः एक दिन मुख्य मार्ग से बाई तरफ की व अगले दिन दायीं तरफ की दुकानें खोलने के आदेश जारी किए जा सकते है।