BJP सांसद ने 4 जिलों के कलेक्टरों को लिखा पत्र, ये है वजह

nandkumar-singh-controversial-statement-on-rahul-gandhi

खंडवा।

खंडवा-बुरहानपुर लोकसभा सीट से सांसद नंदकुमार सिंह चौहान(Khandwa-Burhanpur Lok Sabha MP Nandkumar Singh Chauhan) अपने क्षेत्र के जिसमें 4 जिले आते हैं, खंडवा-बुरहानपुर-खरगोन और देवास (Khandwa-Burhanpur-Khargone and Dewas) जिले के कलेक्टर (Collector) को पत्र लिखकर अपील की है कि कोरोना की महामारी ने देश और दुनिया के सामने अनेक संकट खडे कर दिये है । मजदूर से लेकर उद्योगपति तक सभी को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा है । आर्थिक रूप से सभी वर्गों को आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ा है । कोरोना की इस त्रासदी में सबसे अधिक आहत हुआ है , परेशान हुआ है और जिस तक सामान्य तौर पर किसी प्रकार की सहायता / राहत नहीं पहुंची तो वह है मध्यम वर्ग ।

मध्यम वर्ग अपने बच्चों को ही अपनी जमा पूंजी समझता है और उनका भविष्य बनाने के लिए उन्हें अच्छी शिक्षा देने की भरपूर कोशिश करता है । यही वह मध्यम वर्ग है जो अपने बच्चो को अच्छी शिक्षा मिले इसलिए निजी शिक्षा संस्थाओं में पढाता है । आर्थिक परेशानियों उठाकर भी अपने बच्चों को हर संभव अच्छी शिक्षा मिले यह प्रयत्न करता है । अभी व्यापार , उद्योग सभी बंद है । ऐसी स्थिती में निजी शिक्षा संस्थाओं की विभिन्न तरीके से ली जाने वाली फिस एवं शुल्क इस संकट काल में भारी बोझ है । अतः मेरा अनुरोध है कि ट्यूशन फिस के अलावा निजी शिक्षा संस्थान जो अन्य प्रकार की फिस या शुल्क लेते है वह इस वर्ष न लें , स्कुल ड्रेस के लिए बाध्य न करें , ट्यूशन फिस भी किश्तों में लें । ट्यूशन फिस को छोडकर अन्य शुल्क या फिस जैसे बिल्डिंग शुल्क , फर्नीचर शुल्क , कम्प्युटर लेब शुल्क , स्पोर्ट शुल्क इत्यादी इस वर्ष न लें कृपया आप निजी शिक्षा संस्थाओं से बातचीत कर अपने अधिकारों का उपयोग कर निजी स्कुलों में पढ़ने वाले छात्रों के पालकों को राहत दिलाने का कष्ट करें । .

BJP सांसद ने 4 जिलों के कलेक्टरों को लिखा पत्र, ये है वजह