बैनर पर मोदी की तस्वीर ना देख अफसरों पर भड़के नंदू भैय्या, जमकर सुनाई खरी-खोटी, फिर हुआ ये

BJP-MPs-get-angry-at-not-seeing-PM-Modi's-picture

खंडवा।

इन दिनों पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और खंडवा सांसद नंदकुमार का गुस्सा सातवें आसमान पर है। हालही में उन्होंने लोकसभा संयोजक पालक एवं बूथ समिति कार्यकर्ता सम्मेलन में अपना आपा खो दिया था और कार्यकर्ताओं पर भड़क गए थे, मामला इतना बढ़ा की बीच बचाव के लिए प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह को उतरना पड़ा। अभी ये मामला ठंड़ा हुआ ही था कि गुरुवार को स्वास्थ्य शिविर के दौरान मंच पर पीएम मोदी की तस्वीर ना देख भड़क उठे और सीएमएचओ पर गुस्सा उतार दिया। अफसरों ने आनन-फानन में तस्वीर मंगवाई और लगाई, लेकिन प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट के आते ही तस्वीर हटा दी।

दरअसल, गुरुवार को जिला अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना ‘निरामयम’ स्वास्थ्य शिविर आयोजित किया गया था। जब भाजपा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान कार्यक्रम में पहुंचे तो बैनर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर ना देख भड़क गए और सीएमएचओ डॉ.रतन खंडेलवाल  को जमकर फटकार लगा दी।सांसद ने सीएमएचओ से कहा- गिरगिट के जैसे रंग बदल रहे हो। मैं कार्यक्रम का बहिष्कार कर रहा हूं।जिस प्रधानमंत्री ने योजना लांच की, उनका नाम फोकस में रहना चाहिए। प्रधानमंत्री-प्रधानमंत्री होता है, मुख्यमंत्री-मुख्यमंत्री। सीएमएचओ ने मामले को संभालते हुए सांसद को जैसे तैसे शांत करवाया गया और अफसरों से कहकर सीएमएचओ कार्यालय से मोदी की तस्वीर मंगवाई और मुख्यमंत्री के बैनर के पास टांग दी। कुछ देर बाद सांसद यहां से चले गए। कुछ देर बाद ही प्रदेश के स्वास्थ्य एवं जिला प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट कार्यक्रम में आने वाले थे।उनके आने की भनक लगते ही अफसरों ने वापस मोदी की तस्वीर हटा ली, ताकि प्रभारी मंत्री को सिर्फ कमलनाथ ही दिखें ।

बता दे कि यह पहला मौका नही है जब नंदूभैय्या ने नाराजगी जताई हो। इसके पहले एक कार्यकम में वे कार्यकर्ताओं पर इतने भड़क गए थे कि उन्हें बदमाश तक कह दिया था। हालांकि बाद में प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह को मामला संभालना पड़ा। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसके पहले भी कई वीडियो वायरल हो चुके है।