बाल अधिकार आयोग के बेंच कैंप में बच्चों की समस्याओं का हुआ निराकरण

खण्डवा। सुशील विधानि। 

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली द्वारा सोमवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय परिसर में बेंच कैंप का आयोजन किया गया। इस दौरान आयोग के अध्यक्ष श्री प्रियंक कानूनगो एवं मध्यप्रदेष राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य श्री द्रविन्द्र मोरे, श्रीमती अंजू मिश्रा व श्री आषीष कपूर ने उपस्थित आवेदक बच्चों के अधिकारों संबंधी आवेदनों का मौके पर ही निराकरण किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक डॉ. षिवदयाल सिंह, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रोषन कुमार सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती नंदा भलावे कुषरे, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास श्रीमती  अंशुबाला मसीह सहित विभिन्न अधिकारी तथा समाजसेवी संगठनों के प्रतिनिधि भी मौजूद थे।

बेंच कैंप में इन्हें मिली राहत

षिविर स्थल पर ही निःषक्त बच्चों को मेडिकल सार्टिफिकेट तथा बस किराये में छूट संबंधी प्रमाण पत्र वितरित किए गए। लोक सेवा प्रबंधन विभाग द्वारा आयोग के बेंच कैंप के दौरान 15 बच्चों को जाति प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। बेंच कैंप के दौरान 46 बच्चों के आधार पंजीयन एवं आधार अपडेषन की कार्यवाही की गई। बेंच कैंप के दौरान 100 से अधिक निःषक्त बच्चों को बसो में यात्रा करने पर बस किराये में 50 प्रतिषत छूट संबंधी बस पास परिवहन विभाग द्वारा जारी किए गए। गत दिनों श्रम विभाग की कार्यवाही में विभिन्न होटलों व ऑटो गेरेज में जो बाल श्रमिक चिन्हित किए गए थे, उन्हें 5-5 हजार रू. की राहत राषि के चेक कलेक्टर श्रीमती तन्वी सुन्द्रियाल ने प्रदान किए, जिनमें मुस्तफा, शाहिद, प्रवीण, समीर, दीपक व अनास शामिल है। आयोग के बेंच कैंप के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा 302 तथा आयुष विभाग द्वारा 41 मरीज बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया गया तथा उन्हें निःषुल्क दवाईयां भी वितरित की गई।

इससे पूर्व आयोग की बेंच कैंप का शुभारंभ आयोग के अध्यक्ष श्री कानूनगो व सदस्य श्री मोरे, श्री कपूर व श्रीमती मिश्रा ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस अवसर पर आयोग के अध्यक्ष श्री कानूनगो ने संबोधित करते हुए कहा कि आकांक्षी जिलों में आयोग की बेंच कैंप का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में राज्य बाल संरक्षण आयोग के सहयोग से खण्डवा में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि बाल अधिकारों के संरक्षण में जहां लापरवाही पाई गई है उसे आयोग द्वारा संज्ञान में लिया गया है, दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी।

  षिविर स्थल पर ही सभी जनपद पंचायतों के द्वारा स्टॉल लगाकर अपने अपने विकासखण्ड क्षेत्र के बच्चों का पंजीयन किया गया। षिविर स्थल पर ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण तथा मेडिकल बोर्ड द्वारा प्रमाण पत्र की कार्यवाही की गई। इसके अलावा परिवहन विभाग के स्टॉल पर निःषक्त बच्चों को किराये में छूट संबंधी मदद के लिए आवेदन प्राप्त कर उनका निराकरण किया गया। आयोग की बेंच कैंप लायंस क्लब द्वारा भी निःषक्त बच्चों की मदद के लिए कृत्रिम अंग व उपकरण वितरण के लिए पंजीयन किया गया। सामाजिक न्याय विभाग द्वारा आयोग की बेंच कैंप स्थल पर निःषक्त बच्चों को कृत्रिम अंग व उपकरण संबंधी आवेदन लिए गए। कलेक्टर श्रीमती सुन्द्रियाल ने षिविर स्थल पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाए गए स्टॉल पर जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा उपस्थित बच्चों की समस्याओं का निराकरण संबंधित अधिकारियों के माध्यम से करायें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here