कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने कोरोना को लेकर किए इंतज़ाम का जायज़ा लिया

खंडवा/सुशील विधानी

जिले के नवागत कलेक्टर अनय द्विवेदी एवं पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह कोरोना की चेन ब्रेक करने के लिए पुरजोर प्रयास करने में जुटे है। मंगलवार की सुबह शहर की सड़कों पर उतरकर इन अधिकारियों ने कोरोना प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया तथा यहाँ व्याप्त व्यवस्थाओं की जानकारी कंटेन्मेंट जोन में मौजूद कर्मचारियों से ली। दोनों ही अधिकारी पैदल ही सड़कों पर निकले। इस दौरान कंट्रोल रूम से मछली बाजार होकर कहारवाड़ी, बजरंग चौक, मंदिर गली से इमलीपुरा पहुंचे और बनाए गए जोन को सीमित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इस दौरान नगर निगम आयुक्त हिमांशु सिंह भी मौजूद थे।

समाजसेवी सुनील जैन ने कलेक्टर अनय द्विवेदी से अनुरोध करते हुए कहा कि शहर में कुछ स्थानों पर अनावश्यक रूप से कंटेन्मेंट जोन बना दिए गए है। कई ऐसे क्षेत्रों को भी कोरोना प्रभावित क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। जहां मरीज है ही नहीं, ऐसी स्थिति में इन क्षेत्रों में बेंरिकेटिंग किए जाने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं जहां संक्रमित मरीज मिले है वहां न तो बेरिकेटिंग की गई है और ना ही कोई सूचना दी गई। इससे संक्रमण फैलने की संभावना भी बढ़ती है। जिस पर कलेक्टर ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में सभी को रहने की सलाह दी गई है। उल्लेखनीय है कि कहारवाड़ी क्षेत्र में एक मरीज पॉजिटिव पाया गया था जिसके घर के आसपास कंटेनमेंट जोन नहीं बनाया था। मरीज पांच दिन पूर्व डिस्चार्ज होकर घर आ गया और अपने घर में होम क्वारंटिन में है। मंगलवार को प्रात: इस क्षेत्र में एसपी, कलेक्टर के साथ उनकी टीम पहुंची और तत्काल बेरिकेटिंग के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। मात्र 15 मिनट में कलेक्टर के निर्देश पर बेरिकेटिंग की गई। इसके साथ ही बजरंग चौक से घंटाघर तक लगाए गए अनावश्यक बेरिकेंटिंग हटाने के निर्देश दिए गए है। निर्देश का तत्काल पालन करते हुए आयुक्त हिमांशु सिंह ने अपनी टीम को निर्देशित कर बेरिकेटिंग हटवाई। विगत पंद्रह दिनों से बजरंग चौक से घंटाघर तक लगे अनावश्यक बेरिकेट्स हटाने को लेकर पार्षद सुनील जैन उसे हटाने का निवेदन किया था। बेरिकेट्स हटाए जाने पर श्री जैन ने क्षेत्रवासियों की ओर से कलेक्टर व एसपी का धन्यवाद दिया।

कलेक्टर अनय द्विवेदी एवं पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने मंगलवार सुबह शहर के विभिन्न कन्टेन्मेंट क्षेत्र का दौरा कर वहां की व्यवस्थाएं देखी तथा वहां तैनात पुलिस कर्मियों एवं अन्य अधिकारी कर्मचारियों को लोगों के आवागमन पर सख्ती से रोक लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने इस दौरान वहां के नागरिकों से भी चर्चा की तथा उन्हें समझाइश दी कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सोशल डिस्टेसिंग ही एक मात्र कारगर उपाय है, अत: घरों से न निकले। घरों से बाहर निकले पर संक्रमण का खतरा बना रहता है। उन्होंने नागरिकों को बताया कि उनकी सुविधा के लिए अधिकारी कर्मचारियों को कन्टेन्मेंट क्षेत्र में तैनात किया गया है। कोई भी समस्या होने पर या अत्यावश्यक सामग्री की आवश्यकता होने अपने क्षेत्र में तैनात कर्मचारियों को इसके बारे में बतायें खुद बाहर न निकलें। भ्रमण के दौरान कलेक्टर श्री द्विवेदी ने नगर निगम आयुक्त हिमांशु सिंह को निर्देश दिए कि कन्टेन्मेंट क्षेत्र में अत्यावश्यक सामग्री उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जाए।

मंगलवार शाम को भी दोनों अधिकारी अपनी टीम के साथ कोरोना प्रभावित क्षेत्र पहुंचे और जोन को सीमित करने के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए एवं अनावश्यक रूप से लगे बेरिकेट्स को हटाने की बात भी कही। वहीं क्षेत्रवासियों से भी रूबरू होकर कलेक्टर अनय द्विवेदी ने कहा कि जो भी क्षेत्र कोरोना प्रभावित है उस स्थान का ध्यान रखे और उन मरीजों को बाहर न निकले की सलाह दे। अपने आपको रखने के लिए अपने घरों में रहे और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें।