अनलॉक होते ही बढ़ा क्राइम ग्राफ, महिला ने दर्ज कराई बलात्कार की शिकायत

औंकारेश्वर| सुशील विधानी| कोरोना संक्रमण के चलते दो माह से अधिक तक लॉकडाउन रहा। इस दौरान थाना मांधाता में आपसी विवाद सहित अन्य संगीन घटनाओं के मामले काफी कम रहे, लेकिन लॉकडाउन अनलॉक होते ही अपराधों सहित आपसी विवाद बढ़ने लगे है।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार की दोपहर ग्राम पंचायत कोठी के अंतर्गत स्थित रेवा विहार कालोनी में स्थित एक गेस्ट हाऊस में सनावद निवासी महिला बलात्कार होने की शिकायत लेकर थाना मांधाता पंहुची। महिला के बयान के अनुसार गुरुवार की सुबह गेस्ट हाऊस पर खाना बनाने का काम मांगने के लिये पंहुची थी गेस्ट हाऊस पर मौजूद आरोपित लखन पिता चेनसिंग केवट द्वारा महिला को 6 हजार रुपये महिना मेहनताना तय कर खाना बनाने के काम पर रख लिया था।शाम 4:30 बजे खाना बनाकर गेस्टहाऊस से घर जाने का कहा तो आरोपित लखन ने कहा की अभी मत जाओ बारीश हो रही है बारिश रुक जाने दो फिर चले जाना इसके बाद महिला वही कुर्सी पर बैठकर बारिश थमने का रास्ता देखने लगी।शाम 6 बजे आरोपित लखन ने कुर्सी पर बैठी महिला का हाथ पकडकर अंदर ले गया और उसके सांथ खोटा काम किया।

इन सारे घटनाक्रम की सूचना सनावद निवासी महिला द्वारा अगले दिन शुक्रवार को दोपहर थाना मांधाता पंहुचकर पुलिस को सारी जानकारी दी। थाना प्रभारी जगदीश पाटीदार ने जानकारी देते हुए बताया की सब इंस्पेक्टर महिला अधिकारी द्वारा महिला की शिकायत पर भदवी की धारा 376,506 एवं 3,2,5 एस सी एस सी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया हैं।तथा 35 वर्षिय आरोपित लखन पिता चैनसिंग केवट निवासी वार्ड 3 को हिरासत में लेकर वरिष्ठ अधिकारीयों को प्रकरण भेज दिया गया हैं।

महिला गेस्टहाऊस पर घटना वाले दिन ही 6 हजार रुपये प्रतिमाह खाना बनाने के लिये काम पर रखना बताया गया हैं। महिला के सांथ बलात्कार होने का प्रकरण आया है। दोनों महिला पुरुष का मेडिकल परिक्षण करवाया गया हैं जिसकी जाँच रिपोर्ट आना बाकी हैं एवं आरोपी लखन को जेल भेज दिया गया हैं।
राकेश पैन्ड्रो, एसडीओपी पुनासा