ओंकारेश्वर में मौतों का सिलसिला जारी, गौमुख घाट के नाले में मिला शव

ओंकारेश्वर। सुशील विधानि। 

ओंकारेश्वर के बालवाडी से ममलेश्वर मार्ग पर वार्ड 6 से 8 को जोडने वाले मार्ग के निचे काशीविश्वनाथ मंदिर के पिछे नाले में चन्दू पिता मदन केवट उम्र -35 वर्ष निवासी वार्ड 8 ओंकारेश्वर का शव मिलने की खबर लगते ही क्षैत्र में सनसनी फैल गई। शव का पता तब चला जब कचरा बिनने वालों को नाले में औंधे मुंह पडा दिखा तो उनके द्वारा आसपास के लोगों को बताया गया वहां पंहुचने पर लाश को सिधा करने पर पता चला की उक्त व्यक्ति ओंकारेश्वर क्षैत्र का निवासी होकर स्थानिय गौमुख घाट से इंजन चलित नाव का संचालन कर जिवनयापन करना बताया गया। खबर लगते ही घटनास्थल पर देखने वालों की भीड जमा होने लगी एवं तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरु हुआ। प्रथम दृष्टव्या मौत का कारण बाऊन्ड्री विहिन पुलिया से फिसलकर नाले में गिरकर मौत होने का बताया जा रहा हैं। मौत किन कारणों से हुई हैं जाँच में मांधाता पुलिस जूट गई हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार चन्दु ओंकारेश्वर में गौमुख घाट से इन्जन नाव चलाने का कार्य करता था घटना के एक दिन पूर्व घर से खाने का टिफिन लेकर नाव पर जाने का कहकर घर से निकला था चन्दु अपने पिछे पत्नी तथा दो बच्चे छोड गया।

नगर परिषद के वाटर ट्रिटमेंट प्लांट से क्षमता से अधिक पानी बहना भी एक कारण

गौमुख घाट क्षैत्र सिवेज ट्रिटमेंट प्लांट में 10 लाख लिटर पानी फिल्टर करने की क्षमता हैं वही 14 लाख लिटर पानी प्रतिदिन आने से लगातार अतिरिक्त पानी नर्मदा में छोडा जा रहा हैं चन्दु की लाश वही पास ही में पानी के कुण्ड में मिलना विभाग की लापरवाही दर्शा रहा हैं।

थाना प्रभारी जगदीश पाटीदार का कहना है कि, घटनास्थल पर देखने से पता लगता हैं नाले पर बनी पुलिया से निकलते वक्त चन्दू की फिसलकर नाले में गिरने से मौत होना प्रतित हो रहा हैं पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। सिवेज ट्रिटमेंट प्लांट ओंकारेश्वर के साइट इंचार्ज संजय सिंह का कहना है कि, हमारे प्लांट की क्षमता 10 लाख लिटर पानी फिल्टर करने की है लेकिन प्लांट में 14 से 15 लाख लिटर पानी अतिरिक्त आ रहा हैं जिसकी रिपोर्ट नगर पंचायत कार्यालय को हमारे द्वारा दे दी गई हैं।