इंदिरा सागर डैम पर मछली ठेकेदार की गुंडागर्दी, युवाओं के साथ मारपीट, एसपी को सौंपा ज्ञापन

खंडवा। सुशील विधानि। 

कहने को पावर हब कहलाने वाला जिला जिस विधानसभा क्षेत्र में दो डैम हो वह भी इंदिरा सागर डैम और ओमकारेश्वर डैम जहां पर करोड़ों रुपए की मछलियां रोजाना निकाली जाती है लेकिन उन गरीब मछुआरों के साथ अन्य राज्यों के आए अपराधिक प्रवृत्ति के गुंडे क्षेत्र के युवाओं के साथ मारपीट करते हैं कमलनाथ सरकार कहने को माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने की बात करती है लेकिन हकीकत देखना हो तो मांधाता विधानसभा क्षेत्र के पुनासा डेम और ओमकारेश्वर डैम में मछली मारने वाले ठेकेदार के गुंडे आज दिन क्षेत्रवासियों के साथ मारपीट करते हैं यह सब कुछ क्षेत्र के विधायक को भी पता है लेकिन ना तो उन पर कार्रवाई होती है यहां तक कि कोई शिकायत भी उनकी नहीं कर पाता है लेकिन क्षेत्र में मारपीट की घटनाओं से त्रस्त होकर अब लोग पुलिस अधीक्षक के पास आ रहे हैं मामला विगत दिनों सिमरन फिशरीज कंपनी के गुंडों द्वारा रामू नायक की पिटाई कर जान से मारने की धमकी दी और उसकी पिटाई का वीडियों भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वायरल वीडियों के बाद पीडि़त ने जावर थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी लेकिन पुलिस द्वारा गैर जमानती धारा लगाकर केस दर्ज कर लिया गया। इसके बाद समाज के प्रतिनिधि मंडल ने एसपी को ज्ञापन सौंपा गया था। दस दिन बाद भी कार्यवाही नहीं होने पर मंगलवार हरसूद विधायक विजय शाह के नेतृत्व में विमुक्त बंजारा समाज के सैकड़ों लोग एसपी की जनसुनवाई में पहुंचे और उचित कार्यवाही की मांग की। मीडिया प्रभारी सुनील जैन ने बताया कि ज्ञापन में कहा गया कि 31 दिसंबर को सिमरन फिशरीज कंपनी के गुंडों द्वारा रामू पिता नरसिंह नायक को बोलेरो जीप में रास्ते से उठाकर जंगल में ले जाकर ल_ों से मारपीट की। इसके बाद उसे डरा धमका कर जावर थाने ले गए, उन्होंने कहा कि हमारे खिलाफ एक शब्द भी कहा तो तुझे जान से खत्म कर देंगे। पीडि़त डर के मारे अपने घर आ गया, उसके बाद इन गुंडों ने मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। यह वीडियो रामू के रिश्तेदार ने रामू को बताया। रामू अपने रिश्तेदारों के साथ जावर थाने में जाकर शिकायत दर्ज करवाई। जावर थाना पुलिस ने गैर जमानती धारा लगाकर केस दर्ज कर लिया। इसके विरोध में समाज के प्रतिनिधिमंडल ने 4 जनवरी को अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई को लेकर एसपी को ज्ञापन सौंपा था। 10 दिन के बाद भी उन लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई और वह खुलेआम घूम रहे हैं। इसके उपरांत बंजारा समाज के लोगों ने विधायक विजय शाह के नेतृत्व में खंडवा एसपी को ज्ञापन दिया और मांग की गई जिस गाड़ी से अपमान किया गया था वह गाड़ी को भी जप्त किया जाए। खंडवा एसपी साहब ने कहा कि मछली ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की शिकायत अगर और आई तो हम शासन को लिखेंगे। कंपनी ठेका निरस्त किया जावे। उनकी गुंडागर्दी खत्म करेंगे। ज्ञापन देतेे समय विधायक शाह, समाजसेवी सुनील जैन के साथ समाज के जिला अध्यक्ष राजेश राठौड़, आत्माराम नायक, पप्पू नायक, सोन सिंह नायक, मंसाराम, नीलेश पटेल, पूनम नायक, सुभाष नायक, देवराम, मोती नायक, सुंदरलाल नायक, शांतिलाल नायक, नरसिंह नायक, किशन नायक मौजूद थे।

इनका कहना है कि 

खन्डवा पुलिस अधीक्षक शिवदान सिंह गुर्जर ने बताया कि जावर थाने की इस घटना पर जिस दिन शिकायत आई थी उसी दिन केस रजिस्टर्ड कर लिया गया था एवं सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है एवं घटना की जांच की जा रही है एवं उपरोक्त आगे जांच उपरांत धाराएं बढ़ाई भी जा सकती है