महिलाओं को रोजगार दिलाने के नाम पर ठगी, पैसे ऐंठकर कंपनी फरार

खंडवा, सुशील विधानी। महिलाओं को रोजगार दिलाने के नाम पर पैसे ऐंठने का मामला सामने आया है। कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान महिलाओं को काम दिलाने का वादा किया गया और हर महिला से 2500 रूपये ले लिए गए। लेकिन इसके बाद कंपनी फरार हो गई और अब पीड़ित महिलाओं ने पुलिस अधीक्षक से मामले की शिकायत की है।

ग्राम पंचायत बड़गांव माली की महिलाओं को नागदा में गुप्ता ट्रेडर्स नाम की कंपनी और उनकी एजेंट प्रेमलता पटेल द्वारा कहा गया कि उन्हें रोजगार दिलाया जाएगा और हर महिला से 25 सौ रुपए ले लिए गए। उन्हें कहा गया कि मिर्च सप्लाई और पापड़ बनाने का का काम दिया जाएगा जिससे इन्हें हर माह 8 से 10 हजार की आमदनी होगी। आरोप है कि प्रेमलता पटेल ने करीब 25 महिलाओं के नाम से फर्जी एफिडेविट पर साइन भी किये। महिलाओं ने काम धंधा मिलने के आश्वासन के कारण लता पटेल को पैसे दे दिए लेकिन वो पैसों को लेकर रफूचक्कर हो गई। अब पीड़ित महिलाओं ने पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई है। उन्होने कहा कि हमारे साथ पापड़ और मिर्ची का काम दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी हुई है। मामले को संज्ञान में लेते हुए खंडवा पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने तुरंत जांच के निर्देश दिए हैं। वहीं महिलाओं को आश्वासन दिया कि जल्दी ही महिला और जिन्होने आपके साथ धोखाधड़ी की है, उनकी गिरफ्तारी की जाएगी। महिलाओं के साथ जनपद सदस्य रणधीर कैथवास भी पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे जहां एक रैली के माध्यम से महिलाओं ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच कर ज्ञापन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here