राजतंत्र खत्म हो गया, दिग्विजय सिंह की राजशाही ख़त्म नहीं हुई: विजयवर्गीय

kailash-vijaywargiya-attack-on-digvijay

खंडवा| सुशील विधानी| विधानसभा चुनाव जैसे जैसे नजदीक आते जा रहे हैं वैसे वैसे जिले की राजनीति गतिविधियां भी बढ़ती जा रही है भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय आज अपने दौरे पर खंडवा जिले पहुंचे यूं तो भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों के समर्थन में मांधाता पंधाना और खंडवा में अपनी सभाएं लेने पहुंचे थे| लेकिन उन्हें कुछ विरोधियों का भी सामना करना पड़ा जिनसे उन्होंने वादे किए थे कि आपको प्रत्याशी बनाया जाएगा लेकिन प्रत्याशी नहीं बनाया गया मांधाता में डैमेज कंट्रोल करने पहुंचे कैलाश विजयवर्गीय ने कार्यकर्ताओं को भी समझाया कि भारतीय जनता पार्टी के समर्थन में सभी मिलकर काम करें वहीं पंधाना पहुंचने पर कैलाश विजयवर्गीय ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को आड़े हाथों लिया |

उन्होंने कहा कि एक दिग्गी राजा थे जिनका राजतंत्र तो खत्म हो गया लेकिन राजशाही खत्म नहीं हुई उनके राज में बिजली के लिए तरसते थे किसान की बिजली रानी कब आएगी गरीब क्या होता है खेत क्या होते हैं किसान क्या होते हैं दिग्विजय सिंह मनमोहन सिंह और राहुल को क्या पता वह क्या जाने किसानों का दर्द उनको तो यह भी नहीं पता कि मूली जमीन के अंदर होती है कि झाड़ पर उगती है देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ढाई लाख रुपए गरीबों के खाते में दिए पूरा की पूरा पैसा गरीबों के खाते में गया और आज उनका सपनों का घर बना कांग्रेस के शासनकाल में एक रुपए पहुंचाते थे अट्ठानी मिलती थी मनमोहन सिंह बहुत अच्छे आदमी हैं इतने अच्छे हैं कि उनके शासनकाल में ग्यारह लाख करोड रुपए का भ्रष्टाचार हो गया कांग्रेस भ्रष्टाचार की सरकार थी 10 साल पूर्व मुख्यमंत्री दिग्गी राजा ने किसानों से घोषणा की थी 1991 में की हर किसान को मुफ्त बिजली मिलेगी किसी को मिली अब फिर से घर घर जा रहे हैं और लोगों को गुमराह कर रहे हैं कि किसानों का कर्जा माफ हो जाएगा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जो कि खुद किसान के बेटे हैं किसानों का दर्द जानते हैं इसीलिए उन्होंने पूरे मध्यप्रदेश में 0% पर किसानों को ऋण उपलब्ध कराया जो पहला राज्य बना 18% दर्पण दिग्विजय सिंह के शासनकाल में किसानों को ऋण मिलता था ऋण नहीं देने पर किसानों को कुर्की की जाती थी यह बात कैलाश विजयवर्गीय ने पंधाना में पहुंचने पर जनसभा को संबोधित करते हुए कहीं |

उन्होंने कहा कि राम के विषय में क्या कहूं राम तो खुद राम है एक छोटे से गरीब मध्यम वर्गीय परिवार के इस बेटे को भारतीय जनता पार्टी ने इस युवा नेतृत्व को आगे बढ़ाने के लिए आपके बीच में विश्वास के तौर पर पहुंचाया है युवा इंजीनियर है भारतीय जनता पार्टी ने युवाओं को मौका दिया है राम आपकी पूरी निष्ठा से सेवा करेगा