खंडवा पुलिस को बड़ी सफलता, हाफिज हत्याकांड, धनराज हत्याकांड के मास्टरमाइंड आरोपी गिरफ्तार

खंडवा, सुशील विधानी| पुलिस को बड़ी सफलता मिली है| शहर के मुख्य दो हत्याकांड में जो मास्टरमाइंड खुले में घूम रहे थे उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है| खंडवा पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने बताया कि रेलवे माल गोडाउन पर ऑफिस हत्याकांड के मुख्य आरोपी को उज्जैन से गिरफ्तार किया है | पूर्व में आरोपी निगम पटेल आनंद पाराशर पवन चौहान तथा सोनू पटेल को गिरफ्तार किया गया था लेकिन घटना की साजिश रचने वाले निखिल देवारे और सहयोग करने वाले अमित जैन को गिरफ्तार किया है| वही धनराज हत्याकांड के आरोपी फिरोज सोनू अशफाक जुबैद को गिरफ्तार किया है |

खंडवा पुलिस अधीक्षक ने शहर वासियों की भी प्रशंसा की की इस घड़ी में शहर वासियों ने बड़ी शांति से परिचय दिया घटना कैसी भी हो पुलिस आखिर मुख्य आरोपी तक पहुंचती है शहर की जनता से भी अपील की है कि शहर की फिजा बिगाड़ने वाले लोगों के विरुद्ध पुलिस हमेशा कड़ी कार्रवाई करती जाएंगी चाहे कोई भी हो शहर के घटनाक्रम पर नजर डाले तो थाना कोतवाली की मालगोदाम हाफीज हत्या कार्ड के साजिशकर्ता निखिल देवारे एवं अमित जैन को गिरफतार किया है|

पुलिस अधीक्षक खण्डवा विवेक सिंह के मार्गदर्शन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक खण्डवा श्रीमति सीमा अलावा तथा श्री प्रकाश परिहार के कुशल निर्देशन तथा नगर पुलिस अधीक्षक खण्डवा श्री ललित गठरे के नेतृत्व में थाना कोतवाली पुलिस द्वारा मालगोदाम पर दिनांक 20.07.20 को हुई हाफीज की हत्या के प्रमुख साजिशकर्ता निखिल देवारे एवं अमित जैन को गिरफतार करने में सफलता प्राप्त की है । उक्त प्रकरण की घटना का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 20.7.20 को थाना कोतवाली पुलिस को सूचनाकर्ता नईम पिता हमीद निवासी गुलमोहर कॉलोनी द्वारा सूचना दी कि उसके भाई को दो अज्ञात आरोपियों के द्वारा माल गोदाम पर चाकू व पिस्टल से वार कर हत्या कर दी है । सूचना पर थाना कोतवाली पर मर्ग कमांक 57/20 जाफौ का कायम किया जाकर मर्ग जॉच उपरांत थाना कोतवाली पर अपराध कमांक 480/20 धारा 302 , 34 भादवि का पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना मे लिया गया जिसमे विवेचना के दोरान प्रकरण में धारा 201 , 212 भादवि तथा आर्स एक्ट की धाराएं बढ़ाई गई व प्रकरण से संबंधित आरोपी निगम पटेल , आनन्द पाराशर , पवन चौहान , तथा सोनू पटेल को पूर्व मे गिरफतार किया प्रकरण से संबंधित उक्त गिरफतार आरोपियों के द्वारा अपने कथनों में बताया गया था कि उन्हे उक्त प्रकरण को अंजाम देने के लिये निखिल देवारे ने योजनाबद्ध तरीके से समझाईश दी थी । पश्चात प्रकरण के फरार आरोपी निखिल देवारे को गिरफतार करने हेतु लगातार गिरफतारी टीम द्वारा इंदौर , देवास व ललितपुर में अनेक स्थानों पर दबिश दी गई लेकिन आरोपी गिरफतार नही हो सका । पश्चात प्रकरण के आरोपी निखिल देवारे की आज दिनांक 03.09.20 को उज्जैन से घरपकड की जाकर आरोपी को गिरफतार किया जाकर पूछताछ करने पर आरोपी निखिल द्वारा बताया गया कि उसके द्वारा अमित जैन के साथ मिलकर उक्त प्रकरण की घटना को अंजाम देने की साजिश रची थी । जिसमें उन्हें दो ऐसे व्यक्तियों की तलाश थी . जिनका पहले का कोई आपराधिक रिकार्ड न हो । यह काम अमित जैन के द्वारा निखिल देवारे को दिया गया था । निखिल देवारे के द्वारा इस कार्य हेतु निगम पटेल व आनन्द पाराशर को तेयार किया गया । जिन्होने घटना को अंजाम दिया । प्रकरण के आरोपी निखिल देवारे के कथनानुसार प्रकरण में आरोपी अमित जैन को 4 से अधिक पुलिस टीम तैयार कर आज दिनांक 03.09.20 को ही गिरफतार किया गया । प्रकरण के दोनो आरोपियों द्वारा अपना जुर्म करना स्वीकार करते हुए उक्त प्रकरण की घटना के संबंध मे अपना मकसद बताते हुए कहा कि । दिनांक 29.04.20 को ग्राम हापला दीपला गाँव मे एक समुदायक विशेष के व्यक्ति द्वारा अन्य धर्म के व्यक्ति के ईष्ट के विरूद्ध आपत्तीजनक पोस्ट की थी । जिस पर से थाना कोतवाली पर अपराध धारा 153 क , 188 भादवि व 67 आई टी एक्ट का पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना मे लिया गया । उक्त पोस्ट के कारण ही आगामी समय मे दोनो पक्षों के मध्य विवाद दिनांक 18.5.20 को हुआ जिसमे राजेश फूलमाली नाम के व्यक्ति की हत्या हो गई थी । उक्त हत्या के बदला लेने की नियत से प्रकरण के उपरोक्त आरोपीगण द्वारा मुस्लिम धर्म के किसी भी व्यक्ति की हत्या करने की योजना बनाकर दिनांक 20.7.20 को प्रकरण की घटना को अंजाम दिया । प्रकरण के समस्त 06 आरोपीयों को गिरफतार करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त की है व प्रकरण की घटना को कारित करने के कारणों का भी पुलिस ने पता लगाने में सफलता प्राप्त की है । प्रकरण के गिरफतारशुदा दोनो आरोपियों का पुलिस द्वारा रिमाण्ड प्राप्त किया जाकर प्रकरण विषयक पूछताछ की जावेगी । उक्त कार्यवाही मे नगर पुलिस अधीक्षक खण्डवा श्री ललित गठरे के नेतृत्व में निरीक्षक बी ० एल ० मण्डलोई थाना प्रभारी कोतवाली , उप पुलिस अधीक्षक पूनमचंद यादव , उप पुलिस अधीक्षक केतन अडलक , उप निरीक्षक पुष्पेन्द्र सिंह राठौर थाना प्रभारी पदमनगर , उप निरीक्षक रामप्रकाश यादव थाना कोतवाली , उप निरीक्षक शुभम व्यास , उप निरीक्षक रामकुमार गौतम , प्रआर हिफाजत , आरक्षक अमित यादव , अमर प्रजापत , अनिल वछाने , दीपेन्द्र भदौरिया , नितिन विश्वकर्मा , धर्मेन्द्र अहिरवार एवं दिपेश मालवीया थाना कोतवाली , आरक्षक अरविंद तोमर थाना पदमनगर , आरक्षक राजेन्द्र पांजरे व आरक्षक शेखर जिला विशेष शाखा तथा सायबर सेल के आरक्षक जितेन्द्र राठौर व सुनील की सराहनीय भूमिका रही जिन्हे पुलिस अधीक्षक महोदय द्वार पुरूस्कृत किया जावेगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here