Khandwa News : पुलिस के हत्थे चढ़ी लुटेरी दुल्हन, शादी के बाद ज्वैलरी-नगदी लेकर हो जाती थी फरार

पुलिस अधीक्षक (Khandwa SP) विवेक सिंह ने बताया कि युवतियों द्वारा पैसा लेकर शादी करने व ससुराल से जेवरात उड़ाने के मामले की शिकायतें अक्सर आती हैं।

khandwa

खंडवा, सुशील विधानी। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के खंडवा पुलिस (Khandwa Police) ने शादी (marriage) कर गहने और नकदी (Jewelry And Cash) लेकर फरार होने लुटेरी दुल्हन (Robbery bride) सहित गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने मामले में दुल्हन सहित अन्य आरोपियों को गिरफ्तार (Arrest) किया है। शादी होने के लड़की ससुराल पहुंचती और मौका पाकर ज्वैलरी, नकदी लेकर रात में वहां से भाग निकलती थी।

यह भी पढ़े… MP News : तबादले के बाद गुना CSP का फेसबुक पोस्ट- TI ने चैलेंज दिया था 3 महिने में हटवा दूंगा

पुलिस अधीक्षक (Khandwa SP) विवेक सिंह ने बताया कि युवतियों द्वारा पैसा लेकर शादी करने व ससुराल से जेवरात उड़ाने के मामले की शिकायतें अक्सर आती हैं। कई बार स्वजन मान-सम्मान के लिए थाने तक नहीं पहुंचते हैं। इस प्रकार की वारदातें सुनियोजित ढंग से की जाती हैं। हमारी टीम ने मामले का खुलासा करते हुए इस ड्रामे में शामिल दुल्हन अन्य आरोपी को गिरफ्तार किया है।

दरअसल, खंडवा जिले के हर्ष थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम तोरनिया निवासी केदार पिता राधेश्याम विश्वकर्मा अपनी स्वंय की शादी करना चाहता था , जिसके व्दारा कई जगह शादी की चर्चाए की गई थी किन्तु कही बात नहीं बन रही थीं . इसी चर्चा के क्रम में ग्राम पाटाखाली के जगदीश पिता हरिप्रसाद से भी बातचीत हुई जगदीश ने पूनम पिता चम्पालाल निवासी सोडलपुर जिला हरदा एवं शकील पिता शरीफ निवासी डगावा भटपुरा जिला हरदा से केदार की शादी के लिए लड़की की बात फोन पर की ।

यह भी पढ़े… अचानक जबलपुर पहुंचे कृषि मंत्री कमल पटेल, कलेक्टर-SP और BJP नेताओं की लगाई पाठशाला

पूनम ने लड़की रागनी ( परिवर्तित नाम ) का पिता बनकर केदार से फोन पर बात की कि  लड़की की मां बीमार है और हम गरीन है , इलाज के लिए 40,000 रूपये की जरूरत है , तभी लडकी की शादी करेंगे तब केदार ने पूनम को कहा कि लड़की पसद आने पर से इलाज के लिए पैसे दे दूंगा । जगदीश दिनांक 23.12.2020 को केदार विश्वकर्मा को सिराली , हरदा (Harda) साई मंदिर के पास ले गया जहा पर राजु उर्फ सईद और उसके पिता शरीफ निवासी हरदा ने लड़की रागनी ( परिवर्तित नाम ) के बडे पिता व भाई बनकर पूनम ( पिता ) और शकील ( चाचा ) के माध्यम से जगदीश के साथ आये हुए लड़के केदार को दिखाई गई ।

केदार को लडकी रागनी पसंद आने पर केदार में 40,000 रूपये पूनम ( पिता ) को शकील के सामने देकर लड़की को अपने गांव तोरनिया ले आया , दूसरे दिन दिनांक 24.12.2020 को न्यायालय हरसूद के पास नोटरी शपथ पत्र एक दूसरे के साथ स्वतंत्र रूप से विवाह करने का तैयार किया गया ।दिनांक 25.12.2020 को पूनम ने केदार को लड़की रागनी की मां का स्वास्थ्य खराब होना बताते हुए सोडलपुर बुलवाया जहाँ केदार अपनी पत्लि रागनी को छोडकर वापस आ गया ।

यह भी पढ़े… Indore News : सड़क पर आपस में भिड़ी लड़कियां, जमकर हुई हाथापाई, VIDEO VIRAL

कुछ दिन बाद जब पत्लि रागनी को वापस घर लाने के लिए केदार ने पूनम और शकील से सम्पर्क किया तब पूनम और शकील लगातार आनाकानी रहे , तब केदार को समझ आई की मेरे साथ शादी के नाम पर धोखाधडी कर 40,000 रूपये ले लिए गये है । जिसकी रिपोर्ट केदार ने दिनांक 01.02.2021 को कराये जाने पर शकील.पूनम , जगदीश एवं उक्त लड़की पर अपराध धारा 420,120 बी भादवि के तहत पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया ।

विवेचना के दौरान आरोपी जगदीश पिता हरिप्रसाद निवासी पाटाखाली , शकील पिता शरीफ , वकील पिता शकील निवासी डगावा भटपुरा एवं शरीफ पिता अहमद निवासी हरदा , पूनम पिता चम्पालाल माली निवासी सोलडपुर तथा रागनी ( परिवर्तित नाम ) को गिरफ्तार किया गया । जिनके व्दारा पूछताछ पर पैसे हडपने के नाम से षडयंत्र पूर्वक केदार से 40,000 रूपये हडपना , लड़की रागनी को सोडलपुर बुलाकर शकील और उसके लड़की वकील के साथ शरीफ पिता अहमद निवासी हरदा के यहा भेजना कबूल किया गया एवं केदार पिता राधेश्याम निवासी तोरनिया के बाद पुनः दिनांक 106.01.2021 को कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत 60,000 रूपये लेकर लडकी रागनी की शादी करा दी गई ।

यह भी पढ़े… मध्य प्रदेश के कर्मचारियों को लेकर शिवराज सरकार का बड़ा फैसला

आरोपीगण पूनम माली निवासी सोडलपुर , शकील , उसका लडका वकील निवासी डगावा भटपुरा , राजु उर्फ सईद एवं उसका पिता शरीफ निवासी हरदा के लडकी रागनी ( परिवर्तित नाम ) निवासी विसोनी जिला होशंगाबाद (Hoshangabad) के नकली पिता एवं परिजन बनकर षडयंत्र पूर्वक ऐसे युवक जिनकी शादी किन्ही कारणो से न ही होती है। शादी कराने के नाम पर धोखाघडी कर रूपये लेकर चम्पत हो जाते थे , इनके व्दारा रागनी ( परिवर्तित नाम ) की। 01 नम्बर 2020 मे पहली शादी आमला जिला देवास (Dewas) में 60,000 रूपये लेकर करायी गयी जहां दो सप्ताह रहने के बाद दुल्हन बनी रागनी को चम्पत कर दिया गया ।

02 दिसम्बर 2020 मे दूसरी शादी ग्राम तोरनिया हरसूद खण्डवा निवासी केदार पिता राधेश्याम विश्वकर्मा के साथ 40,000 रूपये लेकर की गई थी , जहाँ दो दिन रहने के बाद दुल्हन बनी रागनी को चम्पत कर दिया गया ।03 दिसम्बर 2020 मे ही तीसरी शादी जिला चित्तोड राजस्थान (Rajasthan) निवासी युवक के साथ 80,000 रूपये लेकर महु मे की गई थी , जहाँ करीब एक सप्ताह रहने के बाद दुल्हन बनी रागनी को चम्पत कर दिया गया । 04 इसी प्रकार जनवरी 2021 मे चौथी शादी थाना कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत 60,000 रूपये लेकर करायी गई थी ।

यह भी पढ़े…. MP College : निजी कॉलेजों को उच्च शिक्षा विभाग के निर्देश, युवाओं को मिलेगा रोजगार

श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देहात व अनुविभागीय अधिकारी पुलिस हरसूद के नेतृत्व में हरसूद थाना प्रभारी अमित कोरी के व्दारा पुलिस हरसूद टीम उनि रूपसिंह सोलंकी , सउनि प्रकाश बडोले , आर 540 ब्रम्हानन्द आर 616 दिलीप आर 672 जितेन्द्र रावत मआर . 120 पाकिजा की उपरोक्त लूटेरी दुल्हन के गिरोह का पर्दाफास कर आरोपियों को पकड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका रही ।