मोदी ने जो नुकसान पहुंचाया उसकी भरपाई करेगी न्याय योजना: राहुल गांधी

rahul-gandhi-in-khandwa

खंडवा | सुशील विधानी| मध्य प्रदेश में अंतिम चरण में 19 मई को मतदान होना है, जिसके मद्देनजर बीजेपी और कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने पूरी ताकत झोंक दी है|  मंगलवार को खडवा संसदीय क्षेत्र में घमासान के बीच भाजपा की तीन नेताओं व कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा खंडवा में हुई। चुनााव प्रचार समाप्ति के नजदीक खडे होते जाने से राजनेताओं की जुबानी जंग भी तीखी और और तीखी होती जा रही है। भाजपा प्रत्याशी नंदकुमार सिंह चौहान के पक्ष  पीएम रविवार को छैगांव माखन मे रैली कर जा चुके है तो कांग्रस प्रत्यााशी अरूण यादव के पक्ष में मंगलवार  को  राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने खडवा मे सभा की और मंच से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत बीजेपी पार्टी पर जमकर हमले बोले और इमोशनल कार्ड भी खेला| 

 उन्होने अपने भाषण में पूरी तरह नरेंद्र मोदी को निशोन पर रखा।  किसानों की हालत, नोटबंदी, ओैर जीएसटी पर बोलते हुये कहा  भारत की ताकत और इसकी अर्थव्यवस्था को मोदी ने बर्बाद कर दिया। उन्होंने आगे कहा, नरेंद्र मोदी ने जो पिछले पांच साल में नुकसान पहुंचाया है, न्याय योजना से उस नुकसान की भरपाई होगी। कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि बेरोजगारी की स्थिति ४५ साल में सबसे भयावह है और दावा किया कि कांग्रेस की न्याय योजना से पांच करो़ड परिवारों को साल में ७२ हजार रुपए की आय सुनिश्चित की जाएगी तथा उसके साथ ही युवाओं को रोजगार और लघु एवं मध्यम स्तर के कारोबारियों के कारोबार में लोगों की क्रय शक्ति ब़ढाकर सुधार लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि चुनाव में मोदी सर्जिकल स्ट्राइक की बात कर रहे हैं लेकिन गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइक कांग्रेस करेगी। राहुल ने अपने भाषण में जीएसटी का विरोध करते हुए कहा, जीएसटी लागू करने से पहले हमने मोदी जी को मना किया लेकिन उन्होंने नहीं माना। इसी तरह नोटबंदी के बारे में किसी से नहीं पूछा। 

पंरपरा अनुरूप सफेद कुर्ता पजामा पहने श्री गांधी ने कहा, यह दो विचारधाराओं की लड़ाई है। एक तरफ बीजेपी और आरएसएस के लोग हैं, दूसरी तरफ कांग्रेस के।इन चुनावों में कांग्रेस  चार मुद्दे लेकर मैदान में हैं, ये पार्टी के नहीं बल्कि लोगों के मुद्दे हैं। सबसे जरूरी रोजगार का मुद्दा है। उसके बाद, किसानों की हालत, नोटबंदी, ओैर जीएसटी और भ्रष्टाचार।उन्होनें  कांग्रेस की न्याय योजना 72 हजार रुपए को चमत्कारी बताया। उन्होने देश के लोगों को 15 लाख रुपये देने के बीजेपी के वादे पर तंज कसते हुए और अपनी न्यूनतम आय योजना (न्याय) की तारीफ करते हुए राहुल ने कहा, वे (मोदी) 15 लाख रुपये देने का वादा पूरा नहीं कर पाए । प्रधानमंत्री की जो भावना थी वह अच्छी लगी। उन्होने अपनी टीम से कहा  पता लगाइए कि 25 करोड़ लोगों को कितना पैसा दे सकते हैं। उन्होंने आगे कहा, नरेंद्र मोदी ने जो पिछले पांच साल में नुकसान पहुंचाया है, न्याय योजना से उस नुकसान की भरपाई होगी। राहुल गांधी ने कहा कि न्याय योजना से पैसा सीधे लोगों को मिलेगा। उन्होंने आरोप लगाया कि 5 लाख 55 हजार करोड़ रुपए 15 लोगों के माफ किए गए। इनमें अनिल अंबानी और नीरव जैसे लोग थे। किसानों और युवाओं का कितना कर्ज माफ किया। सिर्फ जीरो। इस मौके पर उन्होंने न्याय योजना को सिलसिलेवार समझाया।इससे देश की अर्थव्यवस्घ्था आरंभ होगी।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा पहले नारा चलता था कि अच्छे दिन आएंगे। पूरा देश कहता था। मोदी जी आते थे कहते थे 56 इंच की छाती है। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़कर दिखाउंगा। जनता ने कहा कि हां भाई चैकीदार कह रहा है तो चैकीदार को टेस्ट कर लेते हैं। 2014 में पीएम बना दिया। पीएम बने तो काम शुरू किया। पहले लोगों को दिखा कि उन्होंने युवा और किसानों की बात की। लेकिन भाई गले तो नीरव और मेहुल से लगते हैं। गरीब और माता बहनों से गले मिलते नहीं दिखते। जनता के मन में सवाल उठा। कुछ दिन बाद राफेल का मुद्दा सामने आया।पीएम मन की बात फ्रांस के राष्ट्रपति और हवाई जहाज बनाने वाली कंपनी से कर रहे हैं। यह सच्चाई है। राफेल सौदे के साथ ही देश में हुए अन्य कथित घोटालों को राहुल ने सिलसिलेवार गिनाया। उन्होंने कहा  चैकीदार प्रधानमंत्री नहीं बन सकता।  यह भी बताया कि यह नारा कहां से आरंभ हुआ।उन्होंने कहा कि राफेल हवाई जहाज आपने हिंदुस्तान एरोनॉटिकल लिमिटेड से छीनकर अनिल अंबानी को क्यों दिया। एचएएल 70 साल से बना रहा है। अनिल अंबानी ने कभी बनाया नहीं। 45 हजार करोड़ का उस पर कर्ज है। उसके भाई ने पैसे देकर उसे जेल से बचाया। फ्रांस के राष्ट्रपति क्यों कहते हैं कि नरेंद्र मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति से कहा कि हिंदुस्तान में हवाई जहाज नहीं बनेगा।  नरेंद्र मोदी सिर्फ तीन घंटे सोते हैं,।  भ्रष्टाचार पर मुझसे डिबेट कर ले।  जब मैंने पार्लियामेंट में राफेल का सवाल पूछा तो पूरी रात जागते हैं मगर जवाब नहीं देते।   उन्होंने कहा कि कहा गया कि मनमोहन सिंह को अर्थव्यवस्था चलानी नहीं आती। पीएम बने तो जीएसटी लाए। आप खंडवा  में किसी भी व्यापारी से पूछिए कि क्या इससे फायदा हुआ। आपको एक आदमी नहीं मिलेगा जो कहे कि हमें फायदा मिला है। अगर ऐसा कोई है तो मेरे पास ले आओ। मैं तो हिंदुस्तान भर में ढूंढ रहा हूं। आपको लाइन में लगा दिया। झूठ बोला काले धन के खिलाफ लड़ाई है। आपको लाइन में विजय माल्या, नीरव, ललित लगे दिखे। अगर काले धन से लड़ाई थी तो बैंक के सामने सिर्फ ईमानदार लोग ही क्यों खड़े थे।


मोदी ने नफरत कांग्रेस ने प्यार अपनाया 

खंडवा की  लक्ष्य रैली में  बोलते हुए कांग्रेस अघ्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर जमकर कटाक्ष किया। उन्होंने पीएम मोदी पर नफरत करने का अरोप लगाते हुए कहा, यह लड़ाई विचार धारा की है।  उन्होंने कहा (मोदी) चुनावों के दौरान नफरत का इस्तेमाल किया जबकि कांग्रेस ने प्यार अपनाया है ओर यह जीतेगा।कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी ने मेरे पिता के बारे में बात की। उनके लिए गलत शब्दों का प्रयोग करते हैं। वे हमारे परिवार से नफरत करते हैं। लेकिन मैं कहता हूं कि वो जितना गुस्सा और नफरत करेंगे, मैं उन्हें उससे दुगुना प्यार दूंगा। हमेशा मैं उन्हें प्यार ही लौटाऊंगा। उन्होंने कहा कि नफरत को नफरत नहीं काट सकती हैं। उसे प्यार से ही खत्म कर सकते हैं। मैं नरेंद्र मोदी की नफरत को प्यार से ही खत्म करूंगा।