MP:एसपीजी अफसरों को डर-राहुल पर कोई फेंक ना दे पानी का पाउच, सभा में किया बैन

rahul-gandhi-s-relly-today-in-khandwa-madhypradesh

खंडवा।

आखरी दौर में कांग्रेस के पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की नजर एमपी की मालवा-निमाड़ की 8 सीटों पर है।  इसी के चलते राहुल आज मध्यप्रदेश के दौरे पर पहुंचे है और शाम को खंडवा में एक बड़ी सभा को संबोधित करने वाले है। राहुल की सुरक्षा को देखते हुए पुलिस-प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए है।वही एसपीजी के अफसरों ने मंच से सामने और दोनों तरफ लगभग 100 फीट की दूरी तक पानी का पाउच  बांटने से इंकार कर दिया है। अफसरों का मानना है कि किसी के मन में क्या चल रहा यह हमें नहीं पता होता है, यदि कोई पानी का पाउच ही उनके ऊपर फेंक दे तो क्या करेंगे?। इसलिए 100 फीट के दायरे में लोगों को केन से पानी पिलाएं। 

दरअसल, खंडवा लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी अरुण यादव के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आज मंगलवार शाम स्टेडियम में सभा लेंगे। 1 घंटा 5 मिनट रुकने के बाद शाम छह बजे रवाना होंगे। राहुल गांधी की सभा के लिए पाइप का 8 फीट ऊंचा 20 बाय 40 का मंच बनाया गया है। मंच के पीछे राहुल 200 नेताओं, कार्यकर्ताओं और व्यवसायियों से भी मुलाकात करेंगे। उनकी सुरक्षा के लिए एसपीजी के निर्देश पर 50 फीट की डी बनाई गई है। मंच से सामने और दोनों तरफ लगभग 100 फीट की दूरी तक पानी का पाउच नहीं बांटे जाएंगे। सोमवार को निरीक्षण के दौरान एसपीजी दस्ते के अधिकारी ने नेताओं से कहा किसी के मन में क्या चल रहा यह हमें नहीं पता होता है, यदि कोई पानी का पाउच ही उनके ऊपर फेंक दे तो क्या करेंगे?। इसलिए 100 फीट के दायरे में लोगों को केन से पानी पिलाएं। 

वही रास्ते में कोई घटना या विवाद ना हो इसके लिए राहुल गांधी हेलीपैड से सभा स्थल स्टेडियम तक रोड शो की बजाय गाड़ी में बैठकर आएंगे। इस दौरान सेंट्रल स्कूल से जनपद पंचायत चौराहा तक सड़क बंद रहेगी। वहीं कलेक्टोरेट के सामने से गुजरने वाली सड़क की ओर से स्टेडियम को पोल के सहारे किनारों पर टेंट का पर्दा लगाकर सुरक्षा के लिए ढंका गया है। लोगों को सभा में जिला पंचायत की ओर से प्रवेश दिया जाएगा। यहां पर पान, बीड़ी, गुटखा, अस्त्र-शस्त्र ले जाने की मनाही है। मंच के पीछे राहुल गांधी और मुख्यमंत्री कमलनाथ के लिए अलग-अलग ग्रीन रूम बनाया जा रहा है। एसपीजी की सुरक्षा के साथ यहां कांग्रेस कार्यकर्ता तैनात रहेंगे।