मोहर्रम पर विसर्जन जुलूस के दौरान आपत्तिजनक नारे, 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज, 5 की गिरफ्तारी

खंडवा, सुशील विधाणी। पिछले दिनों खंडवा शहर में ताजियों का चल समारोह बिना अनुमति के निकाला गया। शांति समिति की बैठक में तय होने के बावजूद कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए भीड़ इकट्ठा की गई। वही इस ताजिए के चल समारोह में कुछ आपत्तिजनक नारे भी लगाए गए। जिसके बाद पुलिस प्रशासन द्वारा 15 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है और 5 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। नगर पुलिस अधीक्षक ललित गठरे ने बताया कि 20 अगस्त के दिन ताजिए के विसर्जन के दौरान कुछ लोगों ने आपत्तिजनक नारे लगाए और बिना अनुमति के जुलूस निकाला, इन लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। वही डीजे बजाने वाले लोगों के विरुद्ध भी प्रकरण दर्ज किया गया है। 5 लोगों की गिरफ्तारी की गई है वही अभी 10 अन्य आरोपीयों को चिन्हित कर उन्हें भी गिरफ्तार करने की कार्रवाई चल रही है।

जिला अस्पताल में एम्बुलेंस ड्राईवरों की गुंडागर्दी, युवक को जमकर पीटा, वीडियो वायरल

बता दें कि खंडवा शहर पहले से ही संवेदनशील शहरों में आता है वहीं पुलिस प्रशासन द्वारा ताजियों के पूर्व ही कई बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें स्पष्ट कहा गया था कि ताजियों का चल समारोह नहीं निकाला जाएगा और ना ही डीजे साउंड बजाया जाएगा। इसके बावजूद भी कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा ताजियों का विसर्जन जुलूस में भारी संख्या में भीड़ पहुंचाकर जुलूस के रूप में निकाला गया। वही कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा शहर की फिजा को बिगाड़ने के लिए आपत्तिजनक नारे भी लगाए। वीडियोग्राफी के आधार पर पुलिस द्वारा आरोपियों को चिन्हित कर कड़ी से कड़ी
कार्रवाई की बात नगर पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई है। कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत मोहर्रम के ताजिए निकाले गए और जिसमे आपत्तिजनक नारे लगाए गए इसको लेकर थाना कोतवाली में प्रकरण दर्ज किया गया है। नगर पुलिस अधीक्षक ललित गठरे ने बताया धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मामले में पंद्रह आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। पांच आरोपियों को हिरासत में लिया है, बाकी आरोपी को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।