पानी न मिलने पर महिलाओं ने किया चक्का जाम,पार्षद को सुनाई खरी खोटी

पिछले एक सप्ताह से पेयजल सप्लाई की समस्या से झूझ रही महिलाओं ने परेशान होकर आज सड़क पर डब्बे रख चक्काजाम कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस और नगर निगम के अधिकारियों ने समझाइश जेकर जाम खुलवाया।

खंडवा, सुशील विधाणी। नगर निगम के अंतर्गत आने वाले वार्ड क्रमांक 4 स्थित माता चौक क्षेत्र में पिछले 2 हफ्ते से पानी की समस्या को लेकर परेशान लोगों का आक्रोश बुधवार की सुबह अचानक फूट पड़ा। आक्रोशितों ने सडक़ पर बर्तन रखकर चक्काजाम कर दिया और नगर निगम प्रशासन और पार्षद के विरुद्ध जमकर नारेबाजी करने लगे। सूचना मिलने पर नगर निगम के अधिकारी मौके पर पहुंचे और चक्काजाम करने वालों को समझाईश दी। लेकिन आक्रोशित पानी की समस्या को लेकर जिद पर अड़े हुए थे। अधिकारियों द्वारा एक दिन में समस्या का निराकरण कराए जाने का आश्वासन दिए जाने के दो घंटे बाद ही जाम खुल सका।

जिले में नर्मदा जल योजना के नाम पर केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने करोड़ों रुपए खंडवा जिले को दिए है, उसके बावजूद भी शहर के कई वार्डों में पानी नहीं मिल पा रहा है। उसी का नतीजा है कि माता चौक मार्ग पर पानी की आपूर्ति नहीं होने पर महिलाओं ने सड़कों पर चक्का जाम कर दिया। माता चौक की महिलाओं ने करीब दो घंटे तक सड़क बंद रखी, जिससे चलते सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। मामले की जानकारी जब सिटी कोतवाली पुलिस को लगी तो वह भी मौके पर पहुंच गई और तुरंत नगर निगम की टीम ने मोर्चा संभालते हुए महिलाओं से अपनी बात रखी, लेकिन महिलाएं मानने को तैयार नहीं थी, उन्होंने पार्षद को भी खरी-खोटी सुनाई।

सुबह 10 बजे करीब सैकड़ों महिलाएं सडक़ पर बर्तन रखकर प्रदर्शन करने लगी। आक्रोशितों का कहना था कि, पाइप लाइन में कभी-कभार ही पानी आता है और जब भी आता है तो वह काफी गंदा होता है। पानी की समस्या को लेकर उनके द्वारा कई बार नगर निगम के अधिकारियों से गुहार लगाई गई है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती है। इसी दौरान अधिकारियों के निर्देश पर निगम कर्मचारियों द्वारा तत्काल प्रभाव से पानी की लाइन में काम शुरु कराया तब जाकर आक्रोशित माने और सुबह 11 बजे जाम खोला।