नेताओं को सद्बुद्धि मिले, खंडवा की आवाज ने किया शोक सभा के साथ मुंडन

खंडवा की आवाज द्वारा पहले हर्ष यात्रा निकाली गई थी, वहीं आज शोकसभा हुई और मौन धारण भी किया गया। इसके साथ ही मृत्यु भोज भी कराने की तैयार की जा रही है।

खंडवा, सुशील विधाणी। शहर में 26 जनवरी के दिन एक युवक की दुर्घटना में मौत हो गई थी और यह पहली मौत नहीं थी इससे पहले से शहर में मौतों का सिलसिला अब तक जारी है। नेता हर बार शहर में बायपास और रिंग रोड की बात करते हैं, लेकिन चुनाव के बाद यह वादे भूल जाते हैं। यह मुर्दों का शहर है, चंद लोगों से जागेगा नहीं आप सभी को एकजुट होकर आगे आना होगा यह बात मनोज राठौर ने कही।

मनोज राठौर आगे कहते है कि नेताओं को जगाना पड़ेगा। शहर के नेताओं को आगे आकर रिंग रोड और बायपास के लिए शहर से जो वादे किए थे उन्हें पूरा करना चाहिए। रिंग रोड और बायपास के लिए यूथ कांग्रेस के युवा नेता मुल्लू राठौर ने अपना सर मुंडवा कर अपना विरोध जताया। साथ ही नेताओं को सद्बुद्धि के लिए खंडवा में चलाए जा रहे हैं सोशल मीडिया ग्रुप खंडवा की आवाज जिसके नाम से खंडवा में प्रदर्शन आयोजित हो रहे हैं। खंडवा की आवाज द्वारा पहले हर्ष यात्रा निकाली गई थी, वहीं आज शोकसभा हुई और मौन धारण भी किया गया।

कार्यक्रम को धर्मगुरुओं और सिख समाज ने संबोधित किया, इसके साथ ही मुस्लिम समाज, हिंदू समाज , बोहरा समाज के लोग भी पहुंचे और उन्होंने भई अपना विरोध दर्ज कराया। खंडवा के लोग एकजुट होकर खंडवा की आवाज के नाम से शहर में अर्थी घुमाने के बाद प्रशासन का विरोध दर्ज कराते हुए मृत्यु भोज भी कराने को तैयार है। इस संख्या में आज खंडवा की आवाज द्वारा मुंडन कार्य किया गया, जो नगर निगम कार्यालय के बाहर टेंट लगाकर प्रदर्शन किया है।