Khargone : खनिज विभाग की अवैध उत्खनन पर बड़ी कार्यवाई, जब्त की 6 ट्रैक्टर-ट्रॉली, 2 माफिया फरार

मध्य-प्रदेश के खरगोन जिले (Khargone) से हाल ही में एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल खरगोन जिले के बैडिया थाने के नर्मदा किनारे बसा गांव रावेडखेडी में खनिज विभाग के द्वारा अवैध रेत उत्खनन को लेकर बड़ी कार्रवाई की गई है।

Khargone

खरगोन, डेस्क रिपोर्ट। मध्य-प्रदेश के खरगोन जिले (Khargone) से हाल ही में एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल खरगोन जिले के बैडिया थाने के नर्मदा किनारे बसा गांव रावेडखेडी में खनिज विभाग के द्वारा अवैध रेत उत्खनन को लेकर बड़ी कार्रवाई की गई है। जिसमें खनिज विभाग द्वारा 7 ट्रैक्टर ट्रॉली को जप्त किया है। यह भी जानकारी सामने आई है कि दो ट्रैक्टर ट्रॉली के अवैध रेत माफिया फरार है।

इतना ही नहीं इस कार्रवाई को करने के लिए पहले खनिज विभाग की टीम ग्रामीण बनकर मोटर साइकिल से नर्मदा किनारे पहुंचे। बाद में नाव में सवार होकर टीम मौके पर खनिज अधिकारी सावन सिंह चौहान की अगुवाई में कार्रवाई करने पहुंची। यहां टीम ने रेत से भरे टैक्टर ट्राली को जब्त किया। लेकिन दो खनिज माफिया मौके से टीम को चकमा देकर फरार हो गए। लेकिन उनके ट्रक को जब्त कर लिया गया।

Must Read : Khargone : रामनवमी जुलूस के दंगाइयों से लाखों वसूलेगी सरकार, 15 दिन में जमा करवानी होगी राशि

आपको बता दे, माफियाओं को चकमा देकर खनिज विभाग की टीम लंबे रास्ते से वेशभूषा बदल कर नाव से रावेरखडी गांव पहुंची थी। जिसके बाद मौके से टीम ने 6 ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त कर ली। बताया जा रहा है कि अवैध रेत उत्खनन, परिवहन और भण्डारण की धरपकड़ करने के लिए खरगोन के कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम के निर्देश के बाद खनिज राजस्व विभाग ने पुलिस के सहयोग से अभियान चलाया हुआ है। ऐसे में लगातार टीम कार्यवाई को अंजाम दे रही है।

दरअसल, कलेक्टर को आमजन की शिकायत मिल रही थी वहीं सीएम हेल्पलाइन पर भी इस मामले को लेकर कई शिकायतें आई।जिसके बाद कलेक्टर द्वारा निर्देश दिए गए। वहीं अब टीम लगातार अभियान चला कर माफियाओं को चकमा देकर पकड़ रही यही। आज भी खनिज विभाग की टीम द्वारा जब जब्त करने की कार्यवाई की जा रही थी तो ग्राह्मिणों ने खूब बहस की लेकिन खनिज अधिकारी सावन सिंह चौहान ने किसी की नहीं सुनी। ऐसे में 6 टैक्टरो को खनिज विभाग ने बैडिया थाने में पुलिस अभिरक्षा में खडा करा दिया। अभी भी कार्यवाई लगातार जारी है।