लोकायुक्त की कार्रवाई, बीईओ रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार

MP News

खरगोन।मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है। लोकायुक्त टीम ने बीईओ को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि बीईओ ने शिक्षक से रुका हुआ वेतन मांगने के एवज में रिश्वत की मांग की थी। टीम ने आरोपी बीईओ के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है, फिलहाल कार्रवाई जारी है।

मिली जानकारी के अनुसार,जिले के कसरावद में ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर अनिल शर्मा ने एक शिक्षक राकेश शर्मा से रिश्वत की मांग की थी।शिक्षक का रुका हुआ वेतन मांगने के एवज में BEO ने 10 हजार रु की रिश्वत की मांग की थी। इसकी शिकायत शिक्षक ने इंदौर लोकायुक्त टीम से की।टीम ने योजना बनाकर आज गुरुवार को ऑफिसर को रंगेहाथों पांच हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। शिक्षा अधिकारी के खिलाफ लोकायुक्त नियमानुसार कार्रवाई कर रही है।

लोकायुक्त डीएसपी शिव सिंह यादव बताया कि फरियादी के बेटे ऋतिक वर्मा निवासी ढालखेड़ा खरगोन ने इंदौर लोकायुक्त पुलिस को 11 फरवरी को शिकायत की थी कि उसके पिता राकेश वर्मा ढालखेड़ा में सहायक प्राध्यापक के पद पर कार्यरत हैं। सितंबर – अक्टूबर महीने में उनकी तबीयत खराब हो गई थी। इस पर उन्होंने मेडिकल लीव ली थी। ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर अनिल शर्मा को सभी दस्तावेज दिखाने के बाद भी वे मेडिकल लीव का डेढ़ माह का वेतन निकालने के एवज में पिता से 10 हजार की मांग कर रहे थे। इसके बाद कार्रवाई करके बीईओ को गिरफ्तार किया गया।