पत्नी और ससुराल वालों ने इतना प्रताड़ित किया कि जान दे रहा हूँ ……….

खरगोन, डेस्क रिपोर्ट। खरगोन में  अपनी जान देने वाले युवक का वीडियो सामने आया है, युवक ने नर्मदा नदी में कूदकर खुदकुशी कर ली थी, बताया जा रहा है कि मरने से पहले युवक ने वीडियो बनाया है। इसमें उसने पत्नी और ससुराल वालों पर तलाक का केस वापस लेने के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाया है। उसने कहा है कि पत्नी और ससुराल वाले एक करोड़ रुपए मांग रहे हैं। उन्होंने मुझे और परिवार को प्रताड़ित किया है।

Omicron Variants : महाराष्ट्र में सख्ती, बिना मास्क 10,000 तक जुर्माना, फुली वैक्सीनेट ही निकलेंगे घर से

मृतक अजय रीवा का रहने वाला था और इंदौर में रहकर स्टॉक मार्केट का काम करता था। अजय गुरुवार को दोस्त के साथ स्कूटी से ओंकारेश्वर जाने की कहकर निकला था। इसी दौरान रास्ते में पुल के पास दोनों रुके। दोस्त कुछ समझ पाता, इससे पहले अजय ने 40 फीट ऊंचे पुल से नर्मदा नदी में छलांग लगा दी। अजय ने तुरंत घर पर और पुलिस को सूचना दी। तीन दिनों तक सर्चिंग टीम तलाशती रही। उसका शव शनिवार को मुरल्ला गांव के पास नदी में उतराता मिला। गोताखोरों ने उसे निकाला, तो अजय द्विवेदी के नाम से पुष्टि हुई। इसके परिजन को भी सूचना दी गई। पुलिस को स्कूटी की डिक्की में सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है कि उसकी पत्नी और ससुराल वाले उसे और उसके परिवार को प्रताड़ित कर रहे थे, इसलिए वह जान देने जा रहा है। सुसाइड नोट में एक करोड़ रुपए मांगने का भी आरोप लगाया है।पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया।

नये वैरिएंट ओमिक्रॉन का असर, बदल सकता है 15 दिसंबर से इंटरनेशनल उड़ान शुरू करने का फैसला

अजय के पिता प्रमोद द्विवेदी रीवा के सिरमौर में डिप्टी रेंजर हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बेटे के ससुराल वालों ने अजय और हमारे खिलाफ दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज करा दिया है। वे रुपए के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। इसी कारण बेटे ने खुदकुशी की है। पुलिस ने मर्ग कायम का मामले की जांच में जुटी है। पुलिस के मुताबिक स्कूटी की डिक्की में सुसाइड नोट मिला है। इसमें लिखा है कि मेरी मौत के जिम्मेदार गुरु प्रसाद तिवारी, प्रार्थना तिवारी, प्रिंस तिवारी और रमा तिवारी हैं। वह 3 साल से मेरे ऊपर और परिवार पर केस करके एक करोड़ की डिमांड कर रहे थे। इससे परेशान होकर मैंने यह कदम उठाया है। इसके अलावा जांच के दौरान पुलिस को वीडियो मिला है। इसे अजय ने मौत से पहले बनाया है। इसमें वह कह रहा है- मेरी मौत की जिम्मेदार प्रार्थना तिवारी है। 3 साल से मेरे परिवार पर केस कर रखा है। यहां तक कि मेरे अंकल के ऊपर भी केस कर रखा है, जो मेरी फैमिली से ज्यादा वास्ता नहीं रखते। 3 साल से ही केस चल रहा है। केस वापस लेने के बदले में एक करोड़ रुपए मांग रहे हैं। तंग आकर में ये फैसला ले रहा हूं। मैं कोर्ट से प्रार्थना करता हूं कि ऐसे लोगों को सजा जरूर दें।