CEO

खरगोन।

मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने दस अधिकारियों को शोकॉज नोटिस जारी किया है। यह नोटिस सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का निराकरण नहीं करने पर किया गया है।एनवीडीए के कार्यपालन यंत्री, जनपद खरगोन, कसरावद झिरन्या समेत ट्रायबल के सहायक आयुक्त को कलेक्टर ने नोटिस जारी कर सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का निराकरण नहीं करने पर जवाब तलब किया है।

दरअसल,  30 दिसंबर 2019 को स्वामी विवेकानंद सभागृह में समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई थी। इस दौरान सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों पर समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि 10 विभागों द्वारा सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों का समय सीमा में निराकरण नहीं किया गया है ।इसी के चलते नवंबर 2019 में सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों का समय सीमा में निराकरण नहीं करने वाले 10 अधिकारियों को कलेक्टर ने शौकॉज नोटिस जारी किया है।

इन अधिकारियों को जारी किया शौकाज

    कलेक्टर द्वारा जिन अधिकारियों को शौकॉज जारी किया गया है, उनमें विभिन्न विभागों के अधिकारी शामिल है। इनमें जनपद पंचायत खरगोन सीईओ मीणा झा, जनपद पंचायत कसरावद सीईओ मोहनसिंह वास्कले, झिरन्या सीईओ महेंद्र श्रीवास्तव, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग जेएस डामोर सहित कसरावद, बड़वाह व झिरन्या बीएमओ, एसएडीओ झिरन्या, गर्ल्स कालेज प्राचार्य तथा एनव्हीडीए कार्यपालन यंत्री षामिल है।