पुलिस चौकी प्रभारी रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार, एक्सीडेंट केस में की थी रुपयों की डिमांड

खरगोन| मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में एक चौकी प्रभारी को लोकायक्त पुलिस ने रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया है| एक्सीडेंट में वाहन मालिक का नाम बताने के नाम पर रिश्वत मांगी जा रही थी, जिसकी शिकायत इंदौर लोकायुक्त तक पहुंची थी| जिसके बाद मंगलवार को टीम ने कार्रवाई करते हुए आरोप चौकी प्रभारी को रंगेहाथों पकड़ लिया| 

जानकारी के मुताबिक खरगोन जिले के महेश्वर थाने के अधीन आने वाली काकड़दा चौकी के प्रभारी (उप निरीक्षक) कैलाश डांगी को दस हजार रूपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। कन्हैया लाल जिराती निवासी आशापुर ने लोकायुक्त पुलिस को इस सम्बन्ध में शिकायत कर कहा था कि कन्हैया के एक रिश्तेदार की एक वाहन से दुर्घटना हो जाने पर 2 दिसंबर 2019 को निधन हो गया था। घटना के संबंघ में दर्ज प्रकरण की जाँच काकड़दा चौकी प्रभारी कैलाश डांगी कर रहे है। कन्हैया द्वारा चौकी प्रभारी से घटना के आरोपियों का नाम पूछा जा रहा था। नाम बताने के एवज में उपनिरीक्षक श्री डांगी द्वारा 20 हजार रूपये की रिश्वत राशि की मांग की जा रही थी। 

शिकायत की तस्दीक के बाद लोकायुक्त की टीम ने मंगलवार को चौकी प्रभारी डांगी को योजना बनाकर कन्हैया से दस हजार रूपये की रिश्वत राशि लेते गिरफ्तार किया है। आरोपी उपनिरीक्षक के विरूद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत आगामी कार्यवाही की गई है|