मानसिक रूप से विक्षिप्त युवक की जिंदगी जंजीरों में बंधी, गरीब परिजनों को अब तक नहीं मिली जिला प्रशासन से कोई मदद

मामले पर पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि- यह है समाज में बहुत ही निंदनीय कृत्य है जिसको लेकर जबलपुर कलेक्टर से विक्षिप्त युवक के इलाज के लिए बात की जाएगी।

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक युवक की दर्दनाक तस्वीर सामने आई है। जहाँ एक मानसिक रूप से विक्षप्त युवक को कई सालों से जंजीरों में बांध कर रखा हुआ है। उसके परिजनों ने ईलाज के लिए कई बार जिला प्रशासन से गुहार भी लगाई पर नतीजा विफल रह।

मानसिक रूप से विक्षिप्त युवक की जिंदगी जंजीरों में बंधी, गरीब परिजनों को अब तक नहीं मिली जिला प्रशासन से कोई मदद

ये भी पढ़ें- CM Helpline: कलेक्टर के अधिकारियों को सख्त निर्देश- ऐसा नहीं किया तो हर दिन लगेगा जुर्माना

जबलपुर शहर से करीब 40 किलोमीटर दूर स्थित बघराजी गाँव में रहने वाले एक युवक की जिंदगी बीते कई सालों बेड़ियों में बंधी हुई है।  वह मानसिक रूप से विक्षिप्त है। इसके चलते लोगों को खौफ है कि वह राह चलते किसी पर भी हमला कर देता है। वह घर से भी कई बार भाग जाता है, जिससे उसके परिजन परेशान हो गए हैं, लिहाजा उंन्होने उसे बेड़ियों से बांध दिया। कई सालों से इस युवक के हाथ पैरों में जंजीरे बंधी हुई है। विक्षिप्त युवक का परिवार गरीब है। कुछ साल तक विक्षिप्त की देखभाल उसके माता पिता ने किया, तीन माह पहले उसके माता-पिता का अचनाक देहांत हो गया। अब विक्षिप्त का छोटा भाई और भाभी पालन-पोषण कर रहे हैं।

ये भी देखें- रजत पदक विजेता ने 2 साल बाद खाया ‘घर का खाना’, साझा की खुशी

विक्षिप्त युवक को लेकर बघराजी पंचायत के सरपंच का कहना था कि ग्राम पंचायत की जो भी योजना है उसका लाभ उसे दिया जाता है, लेकिन उसे इलाज के लिए कही और नहीं भेजा गया जिसके चलते अब तक उसकी स्थित मे सुधार नहीं है। वहीं इस मामले पर पूर्व सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया को इस विषय से अवगत करवाया तो उन्होंने कहा कि यह है समाज में बहुत ही निंदनीय कृत्य है जिसको लेकर जबलपुर कलेक्टर से विक्षिप्त युवक के इलाज के लिए बात की जाएगी।