MP: दतिया में दर्दनाक हादसा, ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से 5 लोगों की मौत, 19 घायल

MP: 14 जून, 2024 को दतिया जिले के दीसवार गांव से रतनगढ़ माता मंदिर दर्शन के लिए जा रहे 200 श्रद्धालुओं में से 30 लोग ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से घायल हो गए। इस हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई थी।

MP Dindori accident

MP: शुक्रवार, 14 जून 2024 की सुबह मध्य प्रदेश के दतिया जिले में एक भयानक हादसा हो गया। दुरसड़ा थाना क्षेत्र के गांव जोरा मैथाना पाली के पास करीब साढ़े 4 बजे एक ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई, जबकि 19 अन्य घायल हो गए।

ट्रॉली में 30 से ज्यादा लोग सवार थे

ट्रॉली में 30 लोग सवार थे, जो रतनगढ़ माता मंदिर में जवारे चढ़ाने के लिए जा रहे थे। मृतकों में तीन लड़कियां और दो महिलाएं शामिल हैं। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। गंभीर रूप से घायलों को ग्वालियर रेफर किया गया है। पुलिस के अनुसार, ट्रैक्टर-ट्रॉली तेज गति से चल रही थी और एक मोड़ पर अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे के कारणों की जांच की जा रही है।

पुलिया से 15 फीट नीचे गिरी ट्रैक्टर-ट्रॉली

सूत्रों के अनुसार, गांव से 6 ट्रैक्टर-ट्रॉली एकसाथ सुबह जल्दी निकले थे। एक ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर एक पुलिया से 15 फीट नीचे गिर गई और पलट गई। हादसे की सूचना के बाद एसपी वीरेंद्र मिश्रा जिला अस्पताल पहुंचे और घायलों से मिलकर हादसे के बारे में जाना। उन्होंने घायलों का हालचाल पूछा और उनका इलाज ठीक से हो रहा है, इसकी जानकारी ली।

एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत

पुलिस ने बताया कि हादसे में मारे गए लोगों में दीसवार निवासी नवल किशोर की पत्नी और दो बेटियां शामिल हैं। पुलिस का प्रारंभिक अनुमान है कि ड्राइवर को नींद आने की वजह से यह हादसा हुआ होगा। गांव के सरपंच देवप्रसाद दांगी के अनुसार, 6 ट्रैक्टर-ट्रॉली और टैक्सी में करीब 200 श्रद्धालु रतनगढ़ माता मंदिर जा रहे थे। इनमें से एक ट्रैक्टर-ट्रॉली जो 30 लोगों से भरी थी, अनियंत्रित होकर पलट गई। सरपंच के अनुसार, श्रद्धालु रतनगढ़ मंदिर में जवारे चढ़ाने के लिए जा रहे थे। हादसे के कारणों की जांच पुलिस कर रही है। मृतकों की पहचान अभी ठीक तरह से नहीं हो पाई है। यह हादसा पूरे क्षेत्र में शोक का माहौल है। प्रशासन द्वारा मृतकों के परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News