इंदौर में एंटी माफिया अभियान के तहत MP की सबसे बड़ी कार्रवाई, 2 गार्डन समेत 80 दुकान जमींदोज

मामले में क्षेत्र के भूमाफिया सोहराब पटेल और यूनुस पटेल के खिलाफ अवैध वसूली करने के मामले में कार्रवाई की जा रही है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) में शुक्रवार सुबह 5 बजे इंदौर नगर निगम का रिमूवल अमला पुलिस के 100 से ज्यादा अधिकारी और कर्मचारियों के साथ जिला प्रशासन की टीम कनाडिया रोड स्थित प्रेम बंधन गार्डन और रिवाज गार्डन पहुंची। निगम के कर्मचारियों के साथ 5 पोकलेन मशीन 20 से ज्यादा जेसीबी और कई डंपर भी साथ लाए गए थे। दो गार्डनों और करीब 80 दुकानों को जमींदोज कर दिया गया। दोनों ही गार्डन और दुकानें सीलिंग की जमीन पर निर्माण की गई थी।

ये भी पढ़ें- MP Corona : मप्र में कोरोना का बड़ा विस्फोट, 36 नए केस, अकेले महू में 30 पॉजिटिव

अपर कलेक्टर पवन जैन और SDM स्तर के अधिकारियों के निर्देश पर निगम के रिमूवल अमले ने सबसे पहले सीलिंग की जमीन पर बिना अनुमति के निर्माण किये गए रिवाज गार्डन और प्रेम बंधन गार्डन को तोड़ने का काम शुरू किया। दरअसल, यह दोनों गार्डन सीलिंग की जमीन पर बनाए गए थे। कार्रवाई शुरू होते ही क्षेत्र में अचानक हड़बड़ी का माहौल बन गया। आसपास के रहवासी मशीनों की आवाज़ सुनकर सड़क पर निकल आए। इसी बीच प्रशासन ने प्रेम बंधन गार्डन के ठीक सामने बनी हुई 80 दुकानों पर भी कार्रवाई शुरू की।

दरअसल इन दुकानों पर सौहराब पटेल और यूनुस पटेल का कब्जा था। जिन्होंने सीलिंग की जमीन पर कब्जा कर स्क्वेयर फीट के हिसाब से लोगों को जमीन किराये पर दी हुई थी जिस पर बाकायदा महीने में और हफ्ते में वसूली की जाती थी। गौर करने वाली बात यह है कि इन सभी दुकानदारों को अगस्त महीने की 25 तारीख तक अपना अतिक्रमण हटाने का नोटिस नगर निगम की ओर से पहले ही दिया जा चुका था। बावजूद इसके सौहराब पटेल और यूनुस पटेल की वसूली लगातार जारी थी। नोटिस मिलने के बाद भी युनूस पटेल और सोहराब पटेल अपने किरायेदारों को भरोसा दिलाते रहे की कोई कार्रवाई नहीं होगी। लेकिन वहीं कार्रवाई शुरू होते ही कई किराएदार मौके पर पहुंचे और अपना सामान निकालने की गुहार लगाते रहे लेकिन प्रशासन ने उनकी बात पर गौर न करते हुए कार्रवाई को जारी रखा।

ये भी पढ़ें- Sehore : किसानों में रोष, खराब सोयाबीन फसल की अर्थी निकाल कर किया अंतिम संस्कार

इस पूरी कार्रवाई में निगम के कई उपायुक्त, उपयंत्री रिमूवल गैंग के कई कर्मचारीयों के अलावा पुलिस के पांच सीएसपी स्तर के अधिकारी, थाना प्रभारी और सो से ज्यादा पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद रहे। वहीं निगम की ओर से करीब 150 कर्मचारियों को इस काम के लिए लगाया गया था।

कार्रवाई की जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर पवन जैन ने बताया कि मध्य प्रदेश शासन के निर्देश अनुसार एंटी माफिया कार्रवाई शुरू की गई है जिसमें कलेक्टर मनीष सिंह के निर्देश पर प्रेम बंधन गार्डन रिवाज गार्डन और सीलिंग की जमीन पर बनी 80 दुकानों को हटाया जा रहा है। क्षेत्र के भूमाफिया सोहराब पटेल और यूनुस पटेल से अवैध वसूली करते थे जिनके खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है।